Sunday, January 23, 2022

CJI बोले – अयोध्या मामले पर रहेगा फोकस, कश्मीर से जुड़ी याचिका के लिए….

- Advertisement -

जम्मू-कश्मीर में नाबालिग बच्चों को हिरासत में रखे जाने को लेकर दायर याचिका पर हाई कोर्ट की जुवेनाइल जस्टिस कमेटी ने सुप्रीम कोर्ट को अपनी रिपोर्ट सौंप दी है। हालांकि सोमवार को सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने मामले को जम्मू-कश्मीर हाई कोर्ट के हवाले ही कर दिया।

सोमवार को सुनवाई स्थगित करते हुए चीफ जस्टिस (CJI) रंजन गोगोई ने कहा कि अदालत के पास समय नहीं है, क्योंकि उसे अयोध्या मामले की रोजाना सुनवाई करनी है। CJI रंजन गोगोई ने कहा, “हमारे पास इतने मामलों को सुनने का समय नहीं है। हमारे पास सुनवाई के लिए संविधान पीठ का मामला (अयोध्या विवाद) है।”

ऐसे में न्यायमूर्ति एनवी रमना की अध्यक्षता वाली पीठ मंगलवार को अनुच्छेद 370 से संबंधित सभी याचिकाओं पर सुनवाई करेगी। सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को राज्यसभा सांसद वाइको की उस याचिका को भी खारिज कर दिया, जिसमें जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूख अब्दुल्ला को अदालत के समक्ष पेश होने के लिए मांग की गई थी।

कोर्ट ने कहा कि एमडीएमके नेता सार्वजनिक सुरक्षा कानून (पीएसए) के तहत हिरासक को चुनौती दे सकते हैं। चीफ जस्टिस ने इस मामले में कहा है कि PSA एक्ट को चैलेंज किया जा सकता है। ऐसे में याचिका को रद्द कर दिया गया है। जब सुनवाई के दौरान अनुराधा बासिन के द्वारा दायर घाटी में प्रेस पर लगी पाबंदी पर याचिका को तुरंत सुनने से SC ने इनकार कर दिया।

इसके अलावा गुलाम नबी आज़ाद से जुड़ी याचिका अब मंगलवार को ही सुप्रीम कोर्ट में सुनी जाएगी। यानी अब जम्मू-कश्मीर से जुड़ी कई याचिकाओं की सुनवाई मंगलवार को ही होगी।

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles