Thursday, July 29, 2021

 

 

 

चिन्मयानंद को अस्पताल से मिली छुट्टी, शाहजहांपुर जेल भेजे गए

- Advertisement -
- Advertisement -

पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं यौन उत्पीड़न के आरोपी स्वामी चिन्मयानंद को सोमवार शाम लखनऊ स्थित संजय गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान (पीजीआई) से छुट्टी दे दी गई। इसके बाद चिन्मयानंद को शाहजहांपुर जेल भेज दिया गया है।

चिन्मयानंद को 23 सितंबर को सीने में दर्द तथा निम्न रक्तचाप की शिकायत के बाद संजय गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान में भर्ती कराया गया था। उनकी एंजियोग्राफी की गई, लेकिन कोई ब्लॉकेज नहीं पाया गया। स्वास्थ्य संबंधी अन्य समस्याओं के कारण वह अब तक अस्पताल में ही भर्ती थे।

इससे पहले सोमवार को ही स्वामी चिन्मयानंद और पीड़िता दोनों की जमानत याचिका खारिज हो गई. जनपद न्यायाधीश की अदालत में दोनों पक्षों की बहस के बाद जमानत अर्जी खारिज कर दी गई। इस मामले में स्वामी चिन्मयानंद 20 सितंबर से न्यायिक हिरासत में हैं। वहीं 25 सितंबर से पीड़ित छात्रा भी न्यायिक हिरासत में है। चिन्मयानंद के अधिवक्ता ओम सिंह ने बताया की वह स्वामी चिन्मयानंद की जमानत याचिका खारिज होने के बाद इस मामले की अपील इलाहाबाद उच्च न्यायालय में करेंगे।

पीड़ित छात्रा के अधिवक्ता अनूप त्रिवेदी ने बताया कि चिन्मयानंद की जमानत अर्जी पर बहस के दौरान शासकीय अधिवक्ता ने यह तर्क भी सामने रखा कि चिन्मयानंद जब निर्वस्त्र होकर पीड़िता से मालिश करवाते थे और इस दौरान जब पीड़िता इसका विरोध करती थी, तब उसके साथ बल प्रयोग किया जाता था।

त्रिवेदी ने बताया कि ऐसे में जहां पर बल प्रयोग किया जाता है उस मामले में धारा 376 ही लगाई जाती है ना कि 376 (सी) लगाई जाती है। पीड़िता के अधिवक्ता त्रिवेदी ने बताया पीड़िता की जमानत अर्जी पर बहस के दौरान उनका कहना था कि जो रंगदारी का वीडियो पहले वायरल किया गया था उसके दो हिस्से बनाए गए पहले हिस्से को वायरल कर दिया गया और उसी वीडियो का दूसरा हिस्सा 26 सितंबर को वायरल किया गया और इस वीडियो में छेड़छाड़ (टेंपरिंग) की गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles