Thursday, January 20, 2022

चिन्मयानंद केस: एसआईटी लेगी पीड़िता और आरोपी के वॉयस सैम्पल

- Advertisement -

लखनऊ: पूर्व केंद्रीय गृह राज्यमंत्री स्वामी चिन्मयानंद के रे’प मामले में कोर्ट ने एसआईटी को सभी आरोपियों के वॉयस सैंपल लेने की अनुमति कोर्ट ने दे दी है।

जानकारी के मुताबिक, रंगदारी मांगने के आरोपियों ने वायरल विडियो में उनकी आवाज होने से इनकार कर दिया है। लिहाजा, नमूना एकत्र करने के लिए आरोपितों को लखनऊ स्थित विधि प्रयोगशाला ले जाया जाएगा। नमूनों का वायरल विडियो की आवाज से मिलान करवाया जाएगा।

बता दें कि चिन्मयानंद के खिलाफ एसआईटी सभी सबूतों को पुख्ता कर लेना चाहती है। छात्रा द्वारा एसआईटी को सौंपे गए वीडियो की आवाज का मिलान किया जाएगा। इन वीडियो के जरिए लगाए गए आरोपों को चिन्मयानंद के वकील ने झूठ करार दिया है। वकील ने कहा है कि वीडियो में जो शख्स दिख रहा है वह चिन्मयानंद नहीं है।

पिछले दिनों सरकारी वकील ने कोर्ट में बताया कि पीड़िता ने अपनी शिकायत में कहा है कि जब भी वह कपड़े उतारने से मना कर देती थी तो चिन्मयानंद उसके कपड़े फाड़ दिया करते थे।

चिन्मयानंद की याचिका पर सुनवाई के दौरान एसआईटी ने भी कोर्ट में बताया था कि पूर्व केंद्रीय मंत्री एक सुरक्षाकर्मी सहित 4 लोगों ने इस बात की पुष्टि की है कि पीड़ित लड़की अक्सर आश्रम आया करती थी।

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles