chi123

चीन ने एक बार फिर भारतीय सीमा में घुसपैठ की है। उसके दो हेलीकॉप्टर लद्दाख में भारतीय सीमा में घुसे और करीब 10 मिनट तक हवा में मंडराते रहे और उसके बाद वापस लौट गए।

न्यूज़ एजेंसी एनएनआई के सूत्रों के मुताबिक, चीन के दो हेलीकॉप्टर ने 27 सितंबर को लद्दाख के ट्रिग हाइट इलाके में घुस आए थे। भारतीय सीमा में 10 मिनट तक रहने के बाद दोनों हेलीकॉप्टर अपनी सीमा में वापस लौट गए। ट्रिग हाइट भारत के रणनीतिक लिहाज से बेहद अहम है। इसी इलाके में दौलत बेग ओल्डी एयरफील्ड भी है। अक्सर इस इलाके में चीन घुसपैठ की कोशिश करता रहता है।लद्दाख ट्रिग हाइट्स को ट्रेड जंक्शन के नाम से भी जाना जाता है, जो लद्दाख और तिब्बत को एक-दूसरे से जोड़ता है।

भारत-तिब्बती सीमा पुलिस बल की रिपोर्ट के मुताबिक, चीन के दो हेलीकॉप्टर 27 अगस्त को भी लद्दाख के बुर्तसे और ट्रैक जंक्शन पोस्ट के आसपास देखे गए थे। दोनों चीनी हेलीकॉप्टर एमआई-17 की तरह दिख रहे थे। बता दें कि लद्दाख के बुर्तसे और ट्रैक जंक्शन पोस्ट ट्रिग हाईट और डेपसांग इलाके में पड़ता है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

गौरतलब है कि कुछ दिन पहले अरुणाचल प्रदेश की अपर दिबांग घाटी में भी चीन के 11 सैनिकों को घूमते हुए देखा गया था। उस समय भारतीय सैनिकों ने जब चीनी सैनिकों को बताया कि वह भारतीय सीमा में आ गए हैं। उसके बाद चीनी सैनिक वापस लौट गए थे। बाद में पूरे मामले को पहले से तय प्रोटोकॉल के मुताबिक दोनों देश के सैन्य अधिकारियों ने सुलझा लिया था।

यह कोई पहली बार नहीं है जब चीन की आर्मी ने अंतर्राष्ट्रीय सीमा का उल्लनंघ किया है। खबरों के मुताबिक, इससे पहले चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी द्वारा 20 दिन पहले भी अरुणाचल की दिवांग घाटी में टेंट लगाने की खबरे आई थीं।उत्तराखंड के चमोली जिले के बाराहोती में 6, 14 और 15 अगस्त को चीन की आर्मी ने घुसपैठ की थी। चीनी सैनिक भारतीय सीमा में चार किलोमीटर तक अंदर तक घुस आए थे।

Loading...