Friday, August 6, 2021

 

 

 

लद्दाख के करीब चीनी लड़ाकू विमानों ने भरी उड़ान, भारत ने रखी हुई पैनी नजर

- Advertisement -
- Advertisement -

भारत और चीन के बीच लद्दाख को लेकर वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर तनाव बना हुआ है। एलएसी के समीप पूर्वी लद्दाख से 30-35 किलोमीटर दूर चीनी सेना पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) के लड़ाकू विमान उड़ान भर रहे हैं।भारत इन चीनी लड़ाकू विमानों की गतिविधियों पर करीबी नजर रख रहा है।

भारत इन जे-11 और जे-17 विमानों की गतिविधियों पर निगाह बनाए हुए है, ये लड़ाकू विमान होटन और गरगांसा में हवाई ठिकानों से उड़ान भर रहे हैं और लद्दाख क्षेत्र में हमारे क्षेत्र से 30-35 किलोमीटर दूर हैं। हालांकि इससे पहले चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने एलएसी पर परिस्थिति सामान्य होने का दावा किया था और कहा था कि दोनों देश इस मुद्दे को बातचीत के जरिए सुलझाने में सक्षम है मगर इस बयान के विपरीत चीनी सेना पीपुल्स लिबरेशन आर्मी का रुख तनाव को बढ़ाने वाला है।

भारत ने भी मई के पहले हफ्ते में सुखोई-30 एमकेआई को इलाके में भेजा था, जब भारतीय सेना के हेलीकॉप्टर औऱ चीनी सेना के चॉपर बेहद नजदीक आ गए थे। होतान एयरबेस लंबे समय से भारतीय एजेंसियों की निगाह में है, क्योंकि चीनी वायुसेना यहां पाकिस्तान के साथ हवाई अभ्यास कर चुकी है।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह का कहना है कि भारतीय सेना देश का गर्व और गौरव बनाए रखेगी। एलएसी पर चीनी सेना की किसी भी कार्रवाई का मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि देश के सम्मान में कोई कमी नहीं आने दी जाएगी। चीन की ओर से चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजियान ने कहा कि भारत के साथ एलएसी पर हालात पूरी तरह से स्थिर और नियंत्रण योग्य है।

चीन के प्रवक्ता ने कहा कि दोनों देश इस विवाद को सुलझाने की दिशा में आपसी बातचीत और सलाह मशवरा कर रहे हैं। चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता का यह बयान रक्षा मंत्री के बयान के बाद आया है जिसमें बातचीत के जरिए विवाद को सुलझाने का दावा किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles