मसूद अजहर के लिए चीन ने किया वीटो का प्रयोग, राहुल बोले – चिनफिंग से डरे हुए पीएम मोदी

12:03 pm Published by:-Hindi News

नई दिल्ली: जैश सरगना मसूद अजहर को ग्लोबल टेररिस्ट घोषित किए जाने की मुहिम पर भारत को चीन ने एक बार फिर झटका दे दिया। पहले की तरह चीन ने टेक्निकल होल्ड का हवाला देते हुए इस दफा भी वीटो लगा दिया। इसका अर्थ ये है कि मसूद अजहर ग्लोबल टेररिस्ट घोषित नहीं होगा।

फ्रांस, अमेरिका और ब्रिटेन द्वारा मसूद के खिलाफ संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में लाए गए प्रस्ताव के खिलाफ बुधवार को वीटो लगा दिया। इसके साथ ही यह प्रस्ताव रद्द हो गया। पिछले दस साल में यह चौथा मौका है, जब चीन ने अपने स्वार्थ के चलते मसूद को वैश्विक आतंकी घोषित होने से बचाया है।

यूएन में एक राजनयिक ने बताया कि चीन ने प्रस्ताव को ‘टेक्निकल होल्ड’ पर रख दिया है। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की 1267 अलकायदा प्रतिबंध समिति के तहत प्रतिबंधित करने का प्रस्ताव फ्रांस, ब्रिटेन और अमेरिका 27 फरवरी को लाए थे। समिति के सदस्यों को इस प्रस्ताव पर आपत्ति जताने के लिए 10 कार्यदिवस की समयसीमा दी गई थी।

यह अवधि आईएसटी समयानुसार बृहस्पतिवार सुबह 12.30 बजे खत्म हो रही थी लेकिन इसके खत्म होने से ठीक पहले चीन ने प्रस्ताव को होल्ड कर दिया। राजनयिक का कहना है कि चीन ने प्रस्ताव की समीक्षा के लिए और वक्त की मांग की है। समिति अपने फैसले सदस्यों की आम सहमति से लेती है। समिति के नियमों के अनुसार, यदि अनापत्ति अवधि तक र्कोई आपत्ति नहीं आती है तो प्रस्ताव स्वीकार मान लिया जाता है।

भारतीय विदेश मंत्रालय का कहना है कि जिस तरह से यूएनएसी के सदस्य देशों ने भारत के रुख का समर्थन किया उसके लिए भारत उनका शुक्रगुजार है। मसूद अजहर के मुद्दे पर अंतरराष्ट्रीय बिरादरी की तरफ से जो समर्थन हासिल हुआ है वो काबिलेतारीफ है। एक देश की वजह से जो नतीजा सामने है वो निराश करने वाला है लेकिन मसूद अजहर के खिलाफ हमारी मुहिम जारी रहेगी।

चीन द्वारा अड़ंगा लगाए जाने के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बृहस्पतिवार को आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग से डरे हुए हैं और चीन के खिलाफ उनके मुंह से एक शब्द नहीं निकलता है। राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा, ”कमजोर मोदी शी चिनफिंग से डरे हुए हैं। जब चीन भारत के खिलाफ कदम उठाता है तो उनके मुंह से एक शब्द नहीं निकलता है।” उन्होंने दावा किया, ”मोदी की चीन कूटनीति: गुजरात में शी के साथ झूला झूलना, दिल्ली में गले लगाना, चीन में घुटने टेक देना रही”

Loading...