चीन की सेना के गालवान घाटी में घुसपैठ से जुड़ी नई सेटेलाइट तस्वीरें सामने आई है। चीन की सेना ने भारतीय क्षेत्र में 423 मीटर अंदर तक घुसपैठ की है। इन तसवीरों में चीन के 16 टेंट, तिरपाल, एक बड़ा शेल्टर और कम से कम 14 गाड़ियां नजर आ रही हैं।

एनडीटीवी के मुताबिक, गूगल अर्थ प्रो में मौजूद मेजरमेंट टूल इशारा करते हैं कि चीनी गलवान नदी के तट के साथ और अपनी खुद की क्लेम लाइन के उत्तर में 423 मीटर भारतीय क्षेत्र में हैं। गूगल अर्थ प्रो पर गलवान घाटी में कोऑर्डिनेट्स रेखा की सटीक जगह को आसानी से देखा जा सकता है।

पूर्व विदेश सचिव निरुपमा राव कहती हैं, ”वे अतिवादी रुख अपना रहे हैं। वे दावा रेखा की अपनी परिभाषा से बहुत आगे जा रहे हैं जैसा कि आधिकारिक वार्ता में हमें अवगत कराया गया था।” अपने कार्यकाल के दौरान निरुपमा राव की भारत-चीन सीमा वार्ता में प्रमुख भूमिका थी।

हाल ही में पीएम मोदी ने मन की बात कार्यक्रम में कहा था कि ”लद्दाख में भारत की भूमि पर, आंख उठाकर देखने वालों को, करारा जवाब मिला है। भारत, मित्रता निभाना जानता है, तो, आंख-में-आंख डालकर देखना और उचित जवाब देना भी जानता है।”

मोदी की मन की बात ये पहले कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने सरकार से सवाल किया था। मन की बात कार्यक्रम पर सवाल करते हुए उन्होंने लिखा था कि राष्ट्र रक्षा और सुरक्षा की बात कब होगी।

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन