कोलेजियम के फैसले लीक होने पर चीफ जस्टिस हुए नाराज

11:21 am Published by:-Hindi News
ranjan gogoi 620x400

सुप्रीम कोर्ट के कोलेजियम द्वारा लिए गए फैसलों के बारे में मीडिया में आ रही खबरों से चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया रंजन गोगोई बेहद नाराज बताए जा रहे हैं। इस बारे में सीजेआई ने कई जुडिशियल अफसरों से पूछताछ की है।

द टेलिग्राफ को सूत्रों ने बताया, ‘सीजेआई बेहद नाराज हैं’ और उन्होंने कोलेजियम के जजों से यह पता लगाने की कोशिश की कि सूचनाएं कौन लीक कर रहा है। माना जा रहा है कि सीजेआई को ऐसा लगता है कि मीडिया में लीक सूचनाएं सिलेक्टिव हैं यानी कुछ खास जानकारियां ही लीक की जा रही हैं। सीजेआई को ऐसा लगता है कि इन सूचनाओं को लीक करने का मकसद 10 जनवरी को एकमत से लिए गए फैसले पर सवाल उठाना है।

गोगोई को ऐसा लगता है कि इस तरह के सिलेक्टिव लीक की वजह से संस्था को काफी नुकसान पहुंच रहा है। रिपोर्ट के मुताबिक, ऐसी अटकलें हैं कि पिछले साल दिसंबर में हुई कोलेजियम की बैठक में दिल्ली हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस राजेंद्र मेनन और राजस्थान हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस प्रदीप नंदराजोग को सुप्रीम कोर्ट में नियुक्त करना तय हुआ था। हालांकि, एक महीने बाद उनके नाम जस्टिस खन्ना और महेश्वरी से बदल दिए गए।

सूत्रों का कहना है कि दिसंबर की बैठक में जस्टिस मेनन और नंदराजोग के नामों पर चर्चा हुई थी, लेकिन कोई आखिरी फैसला नहीं हुआ क्योंकि इस मसले पर और ज्यादा चर्चा किए जाने की जरूरत थी। विंटर वेकेशन की वजह से इस मामले पर फैसला टल गया। जब कोर्ट दोबारा से खुला तो कोलेजियम के एक सदस्य जस्टिस मदन बी लोकुर रिटायर हो गए।

बता दें कि कोलेजियम के फैसले में जस्टिस संजीव खन्ना और जस्टिस दिनेश महेश्वरी को सुप्रीम कोर्ट में नियुक्त करने की सिफारिश की गई थी। दोनों ही जजों को शुक्रवार सुबह साढ़े 10 बजे शपथ लेना है।

खानदानी सलीक़ेदार परिवार में शादी करने के इच्छुक हैं तो पहले फ़ोटो देखें फिर अपनी पसंद के लड़के/लड़की को रिश्ता भेजें (उर्दू मॅट्रिमोनी - फ्री ) क्लिक करें