Thursday, June 17, 2021

 

 

 

मवेशी चोरी के शक में 45 वर्षीय व्यक्ति की पीट-पीटकर हत्या, पांच घायल

- Advertisement -
- Advertisement -

बिलासपुर: छत्तीसगढ़ के गौरेला-पेंड्रा-मरवाही (जीपीएम) जिले में मवेशी चोरी के संदेह में ग्रामीणों की एक भीड़ द्वारा  45 वर्षीय एक व्यक्ति की कथित तौर पर पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। इस हमले में पांच अन्य घायल हो गए। पुलिस ने शनिवार को ये जानकारी दी।

एक अधिकारी ने बताया कि गौरेला थाना क्षेत्र के सालहेघोरी गांव में गुरुवार को हुई घटना के सिलसिले में कम से कम छह लोगों को गिरफ्तार किया गया है। पीड़ित मध्य प्रदेश के अमरकंटक थाना क्षेत्र के मेधाखर गांव के रहने वाले थे। उन्होंने कहा कि मेधाखर के दो व्यक्ति बुधवार की रात किसी के द्वारा खरीदी गई चार भैंसों को साल्हेघोरी से उनके गांव ले जाने आए थे।

अधिकारी ने कहा, “दोनों को स्थानीय लोगों ने रोका और उन्हें यह साबित करने के लिए दस्तावेज दिखाने के लिए कहा कि मवेशी उनके ह हैं। लेकिन जब वह ऐसा करने में विफल रहे, तो ग्रामीणों ने पीड़ितों पर मवेशियों को चोरी करने का आरोप लगाया और उन्हें लाठियों से पीटा।”

उन्होंने कहा कि जल्द ही, अन्य ग्रामीण भी हमले में शामिल हो गए और दोनों को गांव के एक सामुदायिक हॉल में बंद कर दिया। उन्होंने बताया कि गुरुवार की सुबह दोनों व्यक्तियों के चार रिश्तेदार साल्हेघोरी पहुंचे, जहां स्थानीय लोगों ने उनसे झगड़ा किया और उन्हें लाठियों से पीटना शुरू कर दिया, जिसमें उनमें से एक की मौके पर ही मौत हो गई।

पुलिस अधिकारी ने कहा कि पुलिस की एक टीम मौके पर पहुंची और पांच घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया, जबकि मृतक सूरत बंजारा के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। उन्होंने बताया कि प्रारंभिक जांच के आधार पर स्थानीय जनपद सदस्य सुखराम भैना, साल्हेघोरी गांव के सरपंच पुरुषोत्तम बैगा, पूर्व सरपंच कृष्ण कुमार बैगा और तीन अन्य को हमले के सिलसिले में गिरफ्तार किया गया है।

उन्होंने कहा कि कम से कम 22 और लोग कथित रूप से हमले में शामिल थे और उनकी पहचान की जा रही है, उन्होंने कहा कि इस संबंध में एक मामला दर्ज किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles