शुक्रवार को पंचकुला सीबीआई कोर्ट ने 15 साल पुराने साध्वी से बलात्कार के मामले में डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को दोषी करार दिया है. राम रहीम पर आश्रम की एक साध्वी से रेप के आरोप की पुष्टि हुई है.

अजा पर फैसला 28 अगस्त को होगा. हालांकि कोर्ट के भीतर से ही राम रहीम को हिरासत में ले लिया गया है. हिरासत में लेने के बाद सेना की कस्टडी में रखने का फैसला किया गया है.

फैसला सुनाए जाने से पहले बाबा के सुरक्षाकर्मियों को कोर्ट रूम के बाहर ही रोक दिया गया. कोर्ट के अंदर सिर्फ जज, वकील, दो पुलिस अधिकारी और आरोपी मौजूद रहे.

जज ने जब फैसला सुनाना शुरू किया तो पुलिस अधिकारियों को भी बाहर कर दिया गया. इसके अलावा, कोर्ट रूम में सारे फोन बंद करवा दिए गए.

फैसला आने के साथ ही डेरा प्रमुख के समर्थको ने हिंसा शुरू कर दी है.  समर्थकों पर काबू रखने के लिए पुलिस ने टियर गैस का इस्तेमाल किया है.

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने राज्य में अमन और शांति बनाए रखने की अपील की है. उन्होंने कहा है कि हम किसी को राज्य में माहौल ख़राब करने की इजाजत नहीं देंगे.

वहीँ हरियामा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि प्रशासन हर स्थिति से निपटने के लिए तैयार है. उन्होंने कहा, “मैं सभी प्रदेश वासियों से शांति बनाये रखने एवं प्रशासन का सहयोग करने की अपील करता हूँ, धन्यवाद!”

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?