yah

बैंकों से धोखाधड़ी कर विदेश भागे मोहम्मद याह्या को सीबीआई की टीम भारत लाने में सफल हुई है। याह्या 9 साल पहले कुछ बैंकों के साथ घोटाला कर बहरीन भाग गया था। उसने बेंगलुरु के कुछ बैंकों से करीब 46 लाख रुपये का लोन लिया था।

याह्या को बहरीन से पकड़ा गया। बहरीन में उसकी गिरफ्तारी के बाद सभी जरूरी कार्यवाही कर उसे भारत लाया गया। याह्या के खिलाफ सीबीआई ने 2009 में जांच शुरू की थी, तबतक वह देश छोड़कर भाग चुका था।  उसे एयर इंडिया की फ्लाइट से बहरीन से सीधा दिल्ली लाया गया था। फिर आगे की जांच के लिए उसे बेंगलुरु लेकर जाया गया।

याह्या की भारत वापसी के बाद एक नई बहस छिड़ गई है। सोशल मीडिया पर सवाल उठ रहा है कि आखिर हजारों करोड़ का घोटाला कर फरार हुए नीरव मोदी, मेहुल चोकसी और विजय माल्या जैसे लोगों को कब देश वापस लाया जाएगा।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

ध्यान रहे कि हीरा कारोबारी नीरव मोदी ने पंजाब नैशनल बैंक को 1.8 अरब डॉलर (करीब 130 अरब रुपये) का चूना लगाया हुआ है। हालांकि मोदी की 171 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त की जा चुकी है। ईडी ने अब तक नीरव मोदी समूह और मेहुल चोकसी समूह की 7,638 करोड़ रुपये की संपत्तियां जब्त की हैं।

वहीं विजय माल्या पर बेंको का करीब 9000 करोड़ रुपए बकाया है। इसके अलावा गुजरात के कारोबारी नितिन संदेसरा जैसे कई लोग हजारों करोड़ रुपए लेकर देश से फरार हो चुके है।

Loading...