sdfsdf

मुंबई | नोट बंदी के बाद से आयकर विभाग जगह जगह पर छापेमारी कर रहा है. आयकर विभाग ने अभी तक करीब 323 करोड़ रूपए जब्त किये है. चौकाने वाली बात यह है की आयकर विभाग को बड़ी मात्रा में नयी करेंसी भी बरामद हो रही है. दो दिन पहले ही मुंबई में एक गाडी से 10 करोड़ 10 लाख रूपए का कैश पकड़ा गया. इसमें से 10 लाख रूपए नयी करेंसी में पकडे गए. अब इस मामले ने नया रुख आया है.

मिली जानकारी के अनुसार पकड़ा गया सारा कैश, महाराष्ट्र सरकार में मंत्री पंकज मुंडे और उनकी सांसद बहन प्रीतिमा मुंडे के कोआपरेटिव बैंक का है. जब इस मामले में प्रीतिमा मुंडे से संपर्क किया गया तो उन्होंने कहा की जो कैश मुंबई से पुणे ले जाते समय बरामद हुआ , उसका पूरा हिसाब बैंक के पास है. इसमें कही भी गड़बड़ी की आशंका नही है.

मालूम हो की गुरुवार को आयकर विभाग, प्रवर्तन निदेशालय और मुंबई पुलिस के साझे ऑपरेशन में एक गाडी से 10 करोड़ 10 लाख रूपए बरमाद हुए. पकड़ी गयी रकम में 500 रूपए के नोट में 10 करोड़ रूपए और 2000 के नोट में 10 लाख रूपए मिले. डीसीपी शाहजी उमाप ने पत्रकारों को बताया की हमने इंटेलिजेंस इनपुट के आधार पर घाटकोपर-मानखुर्द लिंक रोड स्थित छेड़ा नगर के पास एक गाडी को रोका.

शाहजी के अनुसार इस गाडी में हमें करोडो रूपए के नोट बरामद हुए जिसमे कुछ नए नोट भी शामिल थे. इस मामले में तीन लोगो को गिरफ्तार किया गया. पूछताछ में उन्होंने बताया की वो वैद्यनाथ अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक के कर्मचारी है. इनमे से एक ने बैंक मेनेजर होने का दावा किया. जांच में पता चला की वैद्यनाथ अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक राज्य सरकार में मंत्री पंकज मुंडे का है.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें