करोड़ों के जमीन घोटाले में नाम आने पर बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे (Nishikant Dubey) की पत्नी के खिलाफ एफ़आईआर दर्ज की गई है। उन पर विलियम्स टाउन हनुमान टिकरी मोहल्ले में एलओकेसी धाम की करीब 19 करोड़ की जमीन 3 करोड़ में खरीदने का आरोप है।

देवघर उपायुक्त सह जिला दंडाधिकारी मंजूनाथ भजंत्री ने सांसद की पत्नी के नाम पर की गई रजिस्टर्ड एलओकेसी धाम की रजिस्ट्री भी रद्द कर दी। साथ ही पत्नी अनामिका गौतम और सांसद पर प्राथमिकी दर्ज करने एवं ईडी जांच का आदेश दिया।

अवर निबंधक द्वारा दर्ज कराई गई प्राथमिकी में कहा गया कि उपायुक्त के न्यायालय से पारित आदेश एवं राजस्व, निबंधन व भूमि सुधार विभाग के अधिसूचना के तहत दस्तावेज कपटपूर्ण मानते हुए उक्त निबंधन को रद करने का आदेश उपायुक्त ने जारी किया था।

इस आदेश के आलोक में अवर निबंधक द्वारा दर्ज कराए गए मामले में जमीन के विक्रेता पुरनदाहा मोहल्ला निवासी संजीव कुमार, एचके बनर्जी रोड निवासी कमल नारायण झा, क्रेता ऑनलाइन इंटरटेनमेंट प्रा.लि. की प्रोपराइटर अनामिका गौतम, पहचानकर्ता बंपास टाउन मोहल्ला निवासी देवता पांडेय, गवाह कास्टर टाउन निवासी सुमित कुमार सिंह को आरोपित बनाया गया है।

उल्लेखनीय है कि भाजपा सांसद निशिकांत दुबे की पत्नी के नाम पर देवघर की एलओकेसी धाम की जमीन 29 अगस्त 2019 को रजिस्टर्ड हुई थी। सांसद की पत्नी पर आरोप है कि उन्होंने सिर्फ 3 करोड़ रुपये देकर जमीन की रजिस्ट्री अपने नाम करा ली, जबकि जमीन की वैल्यू 18.94 करोड़ रुपये है।

इस मामले को लेकर देवघर के शशि सिंह और विष्णुकांत झा ने डीसी से शिकायत की थी। इसी शिकायत पर सुनवाई करते हुए उपायुक्त सह जिला दंडाधिकारी ने जमीन की रजिस्ट्री रद्द कर दी।

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano