केंद्रीय राज्य मंत्री गिरिराज सिंह के ऊपर मुजफ्फरपुर में धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने के आरोप में केस दर्ज कराया गया है। सामाजिक कार्यकर्ता तमन्ना हाशमी और मो. नसीम  ने उन पर धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने का आरोप लगाया है।

पिछले दिनों केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने मुसलमानों को हिन्दुओं का वंशज बताया था।  उन पर आईपीसी 153, 295 और 504 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। स्थानीय कोर्ट ने पीटिशन को स्वीकार करते हुए सुनवाई की तारीख 3 नवंबर तय की है।

Loading...

वादियों का आरोप है कि मुसलमानों को राम का वंशज बताकर गिरीराज सिंह ने पूरे देश की भावना को आहत किया है।परिवादी तमन्ना हाशमी ने बताया कि हम ही नहीं सभी मुसलमान मोहम्मद साहब के वंशज हैं। केंद्रीय मंत्री ने हमें राम का वंशज कहकर धार्मिक भावना को ठेस पहुंचाया है जिससे आहत होकर हमने परिवाद दायर किया है।

गिरिराज सिंह ने सोमवार को विवादित बयान देते हुए कहा था कि मुसलमान मुगल के वंशज नहीं बल्कि श्रीराम के वंशज हैं इसलिए ये लोग राम मंदिर का विरोध न करें और जो राम मंदिर का विरोध कर रहे है वो भी समर्थन में आ जाएं वरना उनसे हिंदू नाराज हो जाएंगे। मुस्लिमों से नफरत करने लगेंगे और अगर ‘ये नफरत ज्वाला में बदल गई तो मुस्लिम सोचें फिर क्या होगा।’ 

रैली को संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री ने जनसख्या नियंत्रण कानून बनाने की मांग करते हुए कहा कि सरकार को अब 2 बच्चा कानून पर विचार करना चाहिए। उन्होंने कहा कि समय रहते इसका इलाज हो जाना चाहिए वरना ये बीमारी लाइलाज हो जाएगी।

उन्होने कहा कि देश के 54 जिलों में हिंदुओं की आबादी मुस्लिमों से नीचे पहुंच गई है। वहां पर उनकी आवाज दब गई है। इनमें उत्तर प्रदेश के 21 जिले शामिल हैं। यदि जातिवाद छोड़कर अभी नहीं संभले तो आने वाले सालों में देश के 250 जिलों में हिंदुओं की बोलती बंद हो जाएगी। उन पर पाकिस्तान जैसा अत्याचार होगा। उन्होंने कहा कि दो से ज्यादा बच्चे पैदा करने वालों को मताधिकार और आर्थिक लाभ से वंचित करना चाहिए।

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें