Friday, July 23, 2021

 

 

 

सावरकर के खिलाफ बोलने पर मैग्सेसे पुरस्कार विजेता संदीप पांडे पर मामला दर्ज

- Advertisement -
- Advertisement -

हिंदू महासभा की शिकायत पर मैग्सेसे पुरस्कार विजेता संदीप पांडे के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। उनके खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 153 ए (दंगों के इरादे से उकसावे) और 505 (1) बी (जनता या समुदाय को अपराध करने के लिए उकसाना) के तहत मामला दर्ज किया गया है।

दरअसल, पिछले दिनों संदीप पांडे ने रविवार को अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (एएमयू) में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (एनआरसी) के विरोध में एक धरने को संबोधित किया था। इस दौरान संदीप पांडे ने विनायक दामोदर सावरकर पर बयान दिया था।

पांडेय ने कहा कि देश की गंगा-जमुनी संस्कृति के विपरीत समाज को हिंदू और मुसलमानों में बांटने वाले लोग वही हैं, जिन्होंने ब्रिटिश राज के दौरान भी यही काम किया था और इसके बदले ब्रिटिश हुकूमत से वजीफा पाते थे। ये ‘फूट डालो और राज करो’ की अंग्रेजों की नीति पर चलने वाले लोग हैं।

उन्होंने दावा किया कि नकाबपोश गुंडे, जिसे कुछ दक्षिणपंथी संगठनों ने किराए पर लिया था। उन्होंने JNU, Jamia और AMU के शांतिपूर्ण प्रदर्शन को बाधित किया और वे ही इन संस्थानों में हिंसा के असली गुनहगार हैं। पांडे ने कहा कि उत्तर प्रदेश में भाजपा सरकार ने राज्य में सभी गलत कार्यो के लिए उन्हें निशाना बनाने की आदत बना ली है।

उन्होंने कहा, ‘मुझे अब निशाना बनाया जा रहा है. सरकार ने अनुच्छेद 370 को रद्द करने के बाद मुझे कश्मीरी लोगों के लिए कैंडल मार्च निकालने की अनुमति तक नहीं दी। मुझे नजरबंद रखा गया था। इस माह की शुरुआत में मुझे अयोध्या जाने से रोका गया। यह लोकतांत्रिक ढंग से, शांतिपूर्ण तरीके से विरोध प्रदर्शन पर भी दबाव बनाने की रणनीति है।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles