नई दिल्ली । अपने उत्पादों को स्वदेशी और ओरगेनिक बताकर विदेशी कम्पनी को तगड़ी टक्कर दे रही, बाबा रामदेव की कम्पनी ‘पतंजलि’ पर एक बड़ा आरोप लगा है। पतंजलि पर आरोप लगा है की उन्होंने एक विदेशी कम्पनी के प्रोडक्ट जैसा प्रोडक्ट लॉंच किया है जो हुबहू उस उत्पाद की नक़ल है। इस मामले में पतंजलि के ख़िलाफ़ दिल्ली हाई कोर्ट में केस दर्ज किया गया है।

मनी भास्कर की ख़बर के अनुसार, दिल्ली हाई कोर्ट में रेकिट बेन्किसर इंडिया ने पतंजलि के ख़िलाफ़ केस दायर किया है। रेकिट का आरोप है की पतंजलि ने उनके ही एक उत्पाद ‘हार्पिक’ के जैसा एक उत्पाद ‘ग्रीन फ्लैश’ लॉंच किया है। यह बिलकुल हार्पिक के जैसा है और इसकी पैकिंग भी हार्पिक के तरह की रखी गयी है। रेकिट का यह भी आरोप है की पतंजलि के उत्पाद पर लिखे इन्स्ट्रक्शन भी बिलकुल हार्पिक के जैसे है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

रेकिट ने पतंजलि पर बड़ा आरोप लगाते हुए कहा की पतंजलि अपने उत्पादों को ओरगेनिक बताकर ग्राहकों को भ्रमित कर रही है। इसी मामले में रेकिट इंडिया ने दिल्ली हाई कोर्ट में सिंगल जज जस्टिस मनमोहन की अदालत में यह केस दायर किया है। रेकिट का आरोप है की ‘ग्रीन फ्लैश’ की पैकिंग और पैटर्न बिल्‍कुल उसके उत्‍पाद जैसा ही है।

रेकिट बेन्किसर इंडिया ने यह भी बताया की टॉइलेट क्‍लीनर बाजार में उसकी 80 फीसदी हिस्‍सेदारी है। लेकिन बाबा रामदेव की पतंजलि के उससे मिलते जुलते उत्‍पाद से उनकी कंपनी के उत्‍पाद हार्पिक को नुकसान हो सकता है। मालूम हो रेकिट इंडिया ने पतंजलि के ख़िलाफ़ पहले भी एक केस दायर किया था। तब कम्पनी ने पतंजलि पर एक विज्ञापन के ज़रिए उनके उत्पाद ‘डिटोल’ की छवि को ख़राब करने का आरोप लगाया था। फ़िलहाल इस केस की अगली सुनवाई 11 जनवरी को होगी।

Loading...