Tuesday, August 3, 2021

 

 

 

#CAA के विरोध से हिला बिहार-यूपी, कर्नाटक, महाराष्ट्र और गुजरात में भी भारी प्रदर्शन

- Advertisement -
- Advertisement -

देश भर में नागरिकता कानून के खिलाफ पूरे देश में प्रदर्शन हो रहे हैं। राजधानी दिल्ली में लेफ्ट पार्टियों के प्रदर्शन के बाद स्थिति इतनी बिगड़ गई कि प्रशासन को कुछ देर के लिए मोबाइल इंटरनेट सेवा और 18 मेट्रो स्टेशन तक बंद करने पड़े।

दिल्ली के अलावा बिहार, उत्तर प्रदेश, असम, पश्चिम बंगाल और कर्नाटक में भी जगह-जगह धरना प्रदर्शन किए जा रहे हैं। मुंबई में गुरुवार को यहां ऐतिहासिक अगस्त क्रांति मैदान में संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। इसी तरह के विरोध प्रदर्शन पुणे और नागपुर में किए गए।

पश्चिम बंगाल, असम और मेघालय में बृहस्पतिवार को हालात शांतिपूर्ण रहे लेकिन बिहार में संशोधित नागरिकता कानून के विरोध में वामदल से जुड़े छात्र संगठनों द्वारा आहूत बंद के दौरान प्रदर्शनकारियों ने रेल और सड़क यातायात को बाधित किया।

लखनऊ में  निषेधाज्ञा का उल्लंघन करते हुए विपक्षी समाजवादी पार्टी के विधायकों और नेताओं ने संशोधित नागरिकता कानून :सीएए: के खिलाफ गुरूवार को विधान भवन के बाहर प्रदर्शन किया । सपा विधायक विधान भवन के सामने सुबह ही एकत्र हो गये थे। हालांकि वहां कड़ी सुरक्षा व्यवस्था थी । सपा सदस्यों ने सीएए के खिलाफ जमकर नारेबाजी की ।

किन-किन शहरों में प्रदर्शन का असर

इस कानून के खिलाफ राजधानी दिल्ली के लाल किला, मंडी हाउस और जामिया इलाके में प्रदर्शन हो रहे हैं। वहीं भोपाल, बैंगलुरु, हैदराबाद, चेन्नई, मुंबई और जम्मू में भी विरोध प्रदर्शन हो रहा है। बाकी राज्यों में बिहार की राजधानी पटना, दरभंगा, उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ और संभल जिले और दक्षिण में हैदराबाद, कर्नाटक में भी प्रदर्शन हो रहे हैं। यूपी के संभल में प्रदर्शनकारियों ने कई सरकारी बसें आग के हवाले कर दीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles