subodhh12

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में तीन दिसंबर को कथित गौरक्षा के नाम पर हुई हिंसा और इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की हत्या के मामले में पीड़ित परिवार पुलिस और प्रशासन की अब तक की कार्रवाई से संतुष्ट नहीं है। इसके विपरीत परिवार ने सबूत मिटाने का गंभीर आरोप लगाया।

सुबोध कुमार की पत्नी रजनी ने कहा है कि उनके पति की हत्या हुई लेकिन सरकार अब कह रही है कि यह दुर्घटना थी। अगर ऐसा होता रहा तो कोई मां अपने बेटे को पुलिस में नहीं भेजेगी।  इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की पत्नी रजनी और बेटे अभिषेक सिंह से NDTV ने बातचीत की तो उन्होंने सरकार के रवैये पर गहरा क्षोभ जताया।

Loading...

रजनी सिंह ने कहा कि दुख होता कि देश की रक्षा करने वालों का किसी को खयाल नहीं है। हत्या के सुबूत मिटाए जा रहे हैं। सरकार कहती है कि यह दुर्घटना थी। मुझे बहुत दुख होता है यह सुनकर। मेरे पति की हत्या की गई। अगर ऐसी दुर्घटनाएं होती रहीं तो माएं अपने बेटों को पुलिस में नहीं भेजेंगी।

buland

उन्होंने कहा कि योगी जी ने आश्वासन दिया था। मैं योगी जी से पूछती हूं कि वह हत्यारा कैसे खुला घूम रहा है। योगेश राज पर राजनीतिक लोगों का हाथ है। सीबीआई से लेकर सब फोर्स हैं तो भी नहीं पकड़ पाए। योगेश राज ऊपर से अपना वीडियो वायरल कर रहा है। उन्होंने कहा कि मेरे पति को न्याय नहीं मिल रहा है। पुलिस कहां है? आज मेरे पति के साथ जो हुआ वह आपके साथ भी होगा।

वहीं सुबोध कुमार के बेटे अभिषेक ने कहा कि वीएचपी और बजरंग दल के लोग योगेश राज को बचाने की कोशिश कर रहे हैं. वह नहीं पकड़ा गया तो यह इंसानियत की हार होगी। देश की रक्षा करने वालों की रक्षा नहीं होती। आरोपी इनकी नाक के नीचे सरेंडर कर रहे हैं। अभिषेक ने कहा कि मेरा भाई IPS बनेगा और मैं वकील बनूंगा। मैं अपने पिता की मौत की फाइल खुलवाकर जांच करूंगा। ये लोग मुझे मजबूर न करें। मेरा देश खोखला न हो जाए, मुझे डर है।

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें