Thursday, August 5, 2021

 

 

 

भीड़ ने ज’लाया था कांस्‍टेबल मोहम्मद अनीस का घर, मदद को आगे आई बीएसएफ

- Advertisement -
- Advertisement -

दिल्ली हिंसा में दंगाइयों के द्वारा जलाए गए घर की मरम्मत की ज़िम्मेदारी बीएसएफ़ ने ली है। बीएसएफ के डीआइजी पुष्‍पेंद्र राठौर ने कहा कि हम इसके जले घर को फिर से संवारने का काम करेंगे। इसके लिए इंजीनियर की टीम आ चुकी है।

जानकारी के अनुसार, उपद्रवियों ने खास खजूरी गली में 35 घरों में आ’ग लगा दी थी। इसी जगह पर बीएसएफ के कॉन्स्टेबल मोहम्मद अनीस का घर था। इस घटना के बाद बीएसएफ ने अपने जवान को दिल्ली मुख्यालय बुला लिया है। इसके साथ ही बीएसएफ ने तुरंत हेड कॉन्स्टेबल मोहम्मद अनीस के पिता मोहम्मद यूनुस, चाचा अहमद, चचेरी बहन नेहा परवीन को सुरक्षित स्थान पर ले जाने की पेशकश की।

इंडिया टुडे से बात करते हुए बीएसएफ के डीजी विवेक जोहरी ने कहा, “हम लोग बीएसएफ कॉन्स्टेबल मोहम्मद अनीस को वित्तीय सहायता देंगे। इससे वे फिर से अपना घर बना सकेंगे। इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट से हमारी टीम वहां गई है और नुकसान का जायजा ले रही है। बीएसएफ घर को फिर से बनाने की जिम्मेदारी एक निजी ठेकेदार को दे सकती है।”

आज बीएसएफ के डीआईजी के रैंक के एक अधिकारी ने मोहम्मद अनीस के परिवार से मुलाकात की है। शनिवार को डीआइजी पुष्‍पेंद्र राठौर खजूरी खास उनके घर पहुंचे। राहत सामग्री लेकर पहुंचे डीआइजी की पूरे मुहल्‍ले में ही नहीं हर जगह तारीफ हो रही है। उन्‍होंने बताय कि अभी अनीस की तैनाती ओडिशा में है। अब उन्‍हें दिल्‍ली में ट्रांसफर कर दिया जाएगा। उन्‍होंने यह भी बताया कि 10 लाख रुपये की आर्थिक भी बीएसएफ करेगा।

रिपोर्ट के मुताबिक बीएसएफ अपने कल्याण कोष से जवान के परिवार को 5 लाख रुपये की मदद देगी. बीएसएफ अपने जवानों को भी अनीस की मदद करने के लिए कह सकती है। बीएसएफ ने कहा कि जवान की तीन महीने बाद शादी होने वाली है, ये हमारी ओर से उसे गिफ्ट होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles