NRC: BSF के इंस्पेक्टर मुजीबुर रहमान और उनकी पत्नी को किया गया विदेशी घोषित

11:46 am Published by:-Hindi News

गुवाहाटी: भारतीय सेना के सेवानिवृत्त कैप्टन मोहम्मद सनाउल्लाह के बाद असम के विदेशी प्राधिकरण ने हाल ही में भारतीय सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) में सेवारत अधिकारी और उनकी पत्नी को अवैध विदेशी घोषित कर दिया है। बीएसएफ में असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर (एएसआई) के पद पर कार्यरत मुजीबुर रहमान, जो फिलहाल पंजाब में तैनात हैं, और उनकी पत्नी को जोरहाट के विदेशी प्राधिकरण ने विदेशी घोषित किया है।

संवाददाताओं से बातचीत में रहमान के पिता बापधान अली ने बताया कि उन दोनों(एएसआई और पत्नी) को छोड़कर उनके परिवार के हर व्यक्ति का नाम राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) में दर्ज किया गया है। एनआरसी का अंतिम प्रकाशन 31 अगस्त को होना है।

अली ने एक समाचार चैनल को बताया, ‘‘मैं सरकार से आग्रह करता हूं कि वह इस संबंध में कदम उठाए ताकि वह भारतीय बना रहे ।’’उन्होंने दावा किया कि उनके परिवार के सदस्यों की वंशावली और जमीन के दस्तावेज मौजूद है जिससे उनकी भारतीय नागरिकता साबित होती है। अली ने कहा, ‘‘हमलोग भारतीय हैं । मेरे परिवार के प्रत्येक व्यक्ति का नाम राष्ट्रीय नागरिक पंजी में है लेकिन सीमा सुरक्षा बल में देश की सेवा कर रहे मुजीबुर और उसकी पत्नी का नाम नहीं है।

nrc 650x400 81514750773

वहीं असम-नागालैंड सीमा से लगे गोलाघाट जिले के मीरापनी के उदयपुर-मिकिरपट्टी के निवासी रहमान ने बताया, “हमें अतीत में विदेशी प्राधिकरण से कोई नोटिस नहीं मिला था. हाल ही में जब मैं छुट्टियों के दौरान घर आया था, तो हमें प्राधिकरण का विदेशी घोषित करने वाला नोटिस मिला।”

रहमान ने कहा, “मेरी और मेरी पत्नी की भारतीय नागरिकता संदेह से परे है। हम वास्तविक भारतीय नागरिक हैं। हमें विदेशी घोषित करना केवल यही साबित करता है कि सीमा पुलिस ने अपने कतर्व्य का ठीक से निवर्हन नहीं किया।”

उन्होंने बताया कि वे इस मामले में पहले ही गुवाहाटी हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटा चुके हैं। उन्होंने कहा, “ना तो मैं और ना ही मेरी पत्नी डरे हुए हैं। हमारे पास हमारे पुरखों के 1930 के जमीन के कागजात हैं। सीमा पुलिस के एक अधिकारी ने शराबी की बात को सच मानकर हमारे खिलाफ विदेशी प्राधिकरण में रिपोर्ट दाखिल कर दी।”

बीएसएफ अधिकारी ने हालांकि उस सीमा पुलिस के अधिकारी का नाम लेने से मना कर दिया, जिसने उनके और उनकी पत्नी के खिलाफ गलत रिपोर्ट दाखिल की। उन्होंने केवल यह कहा कि इस मामले पर वह केस खत्म हो जाने के बाद बात करेंगे।

Loading...