नई दिल्ली | बीएसऍफ़ में ख़राब खाना मिलने की शिकायती विडियो फेसबुक पर अपलोड करने वाले जवान तेजबहादुर खुद शक के दायरे में आ गए है. बीएसऍफ़ की जांच टीम ने तेजबहादुर के फेसबुक अकाउंट पर पाकिस्तानी फ्रेंड होने का दावा किया है. तेजबहादुर का पाकिस्तानी लिंक जानने के लिए अधिकारियो ने इससे जुड़े पहुलुओ की जांच करने का भी आदेश दिया है.

ख़राब खाने की शिकायत को लेकर तेजबहादुर ने अपने फेसबुक अकाउंट पर एक विडियो अपलोड की थी. इस विडियो के वायरल होने के बाद बीएसएफ ने इस मामले की जांच के आदेश दिए थे. वही सरकार ने खराब खाना देने की बात से इनकार करते हुए कहा की था की यह आरोप आधारहीन है. अब इस मामले में एक रोचक मोड़ आया है. बीएसएफ की जांच टीम ने दावा किया है की तेजबहादुर के फेसबुक अकाउंट पर 17 फीसदी पाकिस्तानी फ्रेंड है.

जांच टीम के अनुसार, तेज्बह्दुर के फेसबुक पर 3 हजार के करीब फ्रेंड है. इनमे से कुछ कनाडा, तंजानिया के नागरिक है जबकि करीब 17 फीसदी फ्रेंड पाकिस्तान से सम्बन्ध रखते है. इसके अलावा फेसबुक पर तेजबहादुर के करीब 40 अकाउंट है जिनमे से 39 फर्जी है. जाँच टीम ने जांच के दौरान पाया की तेजबहादुर के अकाउंट पर पाकिस्तान से भी कई पोस्ट हुई है.

इसके अलावा उनके पेज पर पोस्ट में जो हैशटैग इस्तेमाल किये गए है वो भी सवालों के घेरे में है. पाकिस्तान मूल के लोग उनकी विडियो को #near_mutiny_in_Indian_Army हैशटैग के साथ शेयर कर रहे है. इन सब बातो के खुलासे के बाद जांच टीम तेजबहादुर के पाकिस्तान लिंक की भी जांच करने में जुट गयी है. उधर शुक्रवार को तेजबहादुर की पत्नी की याचिका पर सुनवाई करते हुए हाई कोर्ट ने कहा की बीएसएफ इतना पत्थरदिल कैसे हो सकता है. कोर्ट ने तेजबहादुर को उनकी पत्नी से मिलाने का आदेश दिया. अगली सुनवाई 15 फरवरी को होगी.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें