सुरक्षाबलों के खाने की खराब क्वालिटी और भ्रष्टाचार को लेकर खुलासा करने वाले बीएसएफ जवान तेज बहादुर यादव का एक और विडियो सामने आया हैं जिसमे वे भ्रष्टाचार के खिलाफ खड़े होने को लेकर उन पर हो रही प्रताड़ना की प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से शिकायत कर रहे हैं.

उन्होंने पीएम मोदी से सीधा सवाल करते हुए पूछा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से पूछना चाहता हूं कि मैंने वीडियो में बीएसएफ का जो खाने की क्वालिटी दिखाई थी वो सही थी लेकिन बावजूद इसके उस पर अब तक कोई कार्रवाई क्यों नहीं की गई? उन्होंने आगे पूछा कि वीडियो डालने के बाद मुझे परेशान किया गया. ये क्यों हो रहा है?

इसके साथ ही तेज बहादुर ने आरोप लगाते हुए कहा कि मैंने अपने विभाग में खराब खाने को लेकर हो रहा करप्शन इसलिए दिखाया क्योंकि आदरणीय प्रधानमंत्री चाहते थे कि देश से भ्रष्टाचार खत्म हो। मेरे को ही मेंटली टॉर्चर किया गया. क्या भ्रष्टाचार दिखाने का मुझे यह नहीं न्याय मिला.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उन्होंने अपने समर्थकों से अपील करते हुए कहा कि आप सभी लोगों से अनुरोध है कि कृपया करके प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से पूछे कि क्या एक जवान ने खाने का भ्रष्टाचार दिखाया क्या उसका यहीं न्याय है कि उसको ही टार्चर किया जा रहा है, मेरा वीआरएस रोक दिया गया.”

एएनआई के मुताबिक तेज बहादुर ने हाल ही पोस्ट किए अपने वीडियो में कहा कि मेरा दिनांक 10 जनवरी से मोबाइल जमा हो गया था. इसके बाद मुझे जानकारी मिली है कि मेरे अकाउंट से छेड़छाड़ की गई है, जिसमें मेरे पाकिस्तान से कुछ दोस्त पाए गए हैं. इसलिए आप झूठी अफवाहों पर विश्वास न करें जब तक मेरा कोई वीडियो नहीं आए.

Loading...