11 1533382269

हमारे देश में पुलिसकर्मियों को कभी भी उनके काम की सराहना नहीं मिल पाती है। हमेशा आलोचना झेलने वाले पुलिसकर्मी ऐसे-ऐसे काम को अंजाम दे जाते है। जिससे उनको सलाम करने का दिल करता है। ऐसा ही कुछ काम इंदोर की महिला एसआई अनिला पाराशर ने किया है।

दरअसल, गुरुवार को इंदौर-महू रोड पर डिसेंट कॉलोनी के समीप कचरे के ढेर में उन्हे दो दिन की नवजात बालिका के बारे में जानकारी मिली। सूचना मिलते ही वह वहां पहुंची। इस दौरान स्थानीय लोगो में से बच्ची को कोई हाथ लगाने के लिए तैयार नहीं था। लेकिन आरक्षक सुभाष और एसआई अनिला ने बच्ची को कचरे से निकाला और बेहद सावधानी के साथ अस्पताल पहुंचाया।

बच्ची लंबे समय से भूखी होने के कारन लगातार बिलबिला रही थी। पाराशर ने आस पास खड़ी महिलाओं से उसे दूध पिलाने का अनुरोध किया। इस पर कोई उस बच्ची को हाथ तक लगाने को तैयार नहीं हुआ। ऐसे में एक साल के बच्चे की मां पाराशर ने बिना देर किए बच्ची को स्तनपान कराया।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

शुक्रवार को जब बच्ची को अस्पताल से इंदौर के चाइल्ड लाइन द्वारा संचालित छाया केंद्र पर लाया गया तब तक अनिला ने ही उसकी मां की भूमिका निभाई। महिला पुलिसकर्मी के इस कदम की सराहना हो रही है।

Loading...