09 51 166464450brahmos missile ll

ब्रह्मोस की जानकारी लीक करने के आरोप में फंसे रुड़की के इंजीनियर निशांत अग्रवाल को यूपी एटीएस ने मंगलवार को नागपुर में जूनियर मैजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी एस एम जोशी की अदालत में निशांत को पेश कर उसे लखनऊ ले जाने के लिए ट्रांजिट रिमांड मांगा। जिसके बाद अदालत ने तीन दिन का रिमांड मंजूर कर लिया है।

निशांत अग्रवाल से पूछताछ के बाद अब एटीएस दो और वैज्ञानिकों से पूछताछ की है। जिसमें खुलासा हुआ है कि काजल नाम से फेसबुक पर एक्टिव आई.एस.आई. की महिला एजैंट ने इनके जरिए देश की रक्षा संस्थानों में सेंध लगाई है। वह फेसबुक पर 15 से 20 प्रोफाइल पर अलग-अलग नाम से सक्रिय है।

जांच में इस बात की पुष्टि हुई है कि निशांत अग्रवाल जो कि एक इंजीनियर है, पाकिस्तान के आई.पी. एड्रैस से संचालित होने वाली फेसबुक आई.डी. से चैटिंग से माध्यम से संपर्क में था। नागपुर के साथ रुड़की में लैपटॉप से मिली गोपनीय सूचना के आधार पर एटीएस की टीम ने कानपुर में डिफेंस मैटेरियल एंड स्टोर्स रिसर्च डेवलपमेंट इस्टेब्लिशमेंट (डीएमएसआरडीई) की एक महिला वैज्ञानिक से घंटों पूछताछ की। इसके बाद उनके लैपटाप समेत आफिस व घर में मौजूद इलेक्ट्रानिक डिवाइस कब्जे में ली।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

डीएमएसआरडीई के एस्टेट मैनेजर किनसुख मुखोपध्याय के कहने पर वहां के सीनियर वैज्ञानिक एसबी यादव ने बताया कि एटीएस सोमवार को महिला वैज्ञानिक से आवास पर डेढ़ घंटे तक पूछताछ करने के बाद लौट गई। इस दौरान क्या बात हुई जानकारी नहीं है। उन्होंने भी इसके बारे में अभी अवगत नहीं कराया। जांच एजेंसी की पूरी मदद की जा रही है।

एटीएस के आईजी असीम अरुण ने यह भी कहा कि कुछ महीने पहले एक बीएसएफ का जवान गिरफ्तार किया गया था और जांच के दौरान तीन फर्जी फेसबुक आईडी का पता चला, जो पाकिस्तान आधारित आईडी से संचालित होता था। जांच में इस बात की पुष्टि हुई है कि निशांत अग्रवाल जो कि एक इंजिनियर है वो पाकिस्तान के आईपी एड्रेस से संचालित होने वाले फेसबुक आईडी से चैटिंग से माध्यम से संपर्क में था।

निशांत अग्रवाल पर आरोप है कि उन्होंने ‘ब्रह्मोस’ मिसाइल से जुड़ी टेक्निकल जानकारी अमेरिकी और पाकिस्तानी एजेंसी के साथ साझा की है। वह उत्तराखंड के रहने वाले हैं और पिछले 4 साल से डीआरडीओ की नागपुर यूनिट में कार्यरत हैं।

Loading...