Thursday, October 21, 2021

 

 

 

बॉम्बे हाईकोर्ट ने मुंबई में मुहर्रम जुलूस निकालने की दी इजाजत

- Advertisement -
- Advertisement -

कोरोना महामारी के बीच बॉम्बे हाईकोर्ट ने मुंबई में मुहर्रम जुलूस निकालने की अनुमति दे दी है। शुक्रवार को अनुमति दे दी। न्यायमूर्ति एस जे काठावाला और न्यायमूर्ति माधव जामदार ने कड़े प्रतिबंधों के साथ ये अनुमति दी है।

याचिकाकर्ता ऑल इंडिया इदारा-ए-तहफ्फुज-ए-हुसैनियत ने याचिका में कोविड-19 महामारी के बीच सांकेतिक रूप से मुहर्रम का जुलूस निकालने की अनुमति मांगी थी। जिसके बाद राज्य सरकार और याचिकाकर्ता में आपसी सहमति बनी। फिर ये जानकारी अदालत को दी गई। जिसके बाद अदालत ने अनुमति प्रदान कर दी।

अदालत के आदेश के अनुसार शिया मुस्लिम समुदाय के सदस्यों को 30 अगस्त शाम साढ़े चार बजे से साढ़े पांच बजे के बीच पहले से तय किसी एक मार्ग पर केवल ट्रक पर जुलूस निकालने की अनुमति होगी। पैदल जुलूस की इजाजत नहीं है।

आदेश में कहा गया है कि एक ट्रक में अधिकतम पांच लोगों के ही सवार होने की अनुमति होगी। वहीं ‘ताजिया’ के साथ भी केवल पांच लोगों की ही चयनित मार्ग पर आखिरी 100 मीटर पैदल चलने की इजाजत होगी। अदालत ने कहा कि जुलूस में हिस्सा लाने वाले पांच लोगों को अपने घर के पते और मुंबई पुलिस को देने होंगे।

बता दे कि इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने पूरे देश में मुहर्रम जुलूस निकालने की अनुमति की मांग वाली याचिका को खारिज कर दिया था। सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि ताजिया निकालने की अनुमति अगर दे दी जाती है और कोरोना महामारी फैलती है तो फिर से एक खास तबके के लोगों को निशाना बनाया जाएगा और इससे अराजकता फैलेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles