पश्चिम बंगाल के मिदनापुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की किसान रैली में बीजेपी समर्थकों ने जमकर गुंडागर्दी की। भाजपा समर्थकों ने दर्जनभर पुलिसकर्मियों को बुरी तरह से पीटा।

जानकारी के अनुसार, पुलिसकर्मियों ने भाजपा समर्थकों को रैली स्थल से कुछ दूरी पर रोक कर पैदल जाने के लिए कहा था। जिसके बाद डंडों और चप्पलों से पुलिसकर्मियों को बुरी तरह पीटा गया। भाजपा समर्थकों की मारपीट में कई पुलिसकर्मी घायल हुए है। जिनहे  हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। विडियो वायरल होने के बाद अब बीजेपी की और से सफाई पेश की जा रही है।

राज्य में भाजपा चीफ दिलीप घोष ने समर्थकों के इस बर्ताव पर खेद व्यक्त किया है, लेकिन उन्होंने कथित तौर घटना का यह कहकर बचाव करने की कोशिश की कि, ‘मैंने जो सुना है उसके अनुसार पुलिस यातायात को आगे बढ़ाने में असमर्थ थी। इसके बाद पार्टी समर्थकों प्रर्दशन ने किया। उन्होंने अच्छा बर्ताव नहीं किया। लेकिन ऐसा होना नहीं चाहिए था।’

बता दें कि कुछ दिन पहले ही दिलीप घोष ने जलपाईगुड़ी पुलिस स्टेशन के समीप एक विरोध-प्रदर्शन के दौरान कहा था कि राज्य में भाजपा के सत्ता में आने के बाद पुलिसकर्मियों को सबक सिखाया जाएगा।

दूसरी और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा है कि उन्हें घटना की जानकारी मिली है। हालांकि उन्होंने मामले में कोई कमेंट करने से इनकार कर दिया।