रोजगार देने में बीजेपी राज्यों का बुरा हाल, त्रिपुरा में सबसे ज्यादा बेरोजगारी

6:30 pm Published by:-Hindi News

केंद्र की मोदी सरकार रोजगार के मामले में बड़े-बड़े दावे भले कर रही हो लेकिन सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकॉनमी (सीएमआईई) के बेरोजगारी से जुड़े ताजा सर्वे के आंकड़ों इन दावों की हकीकत सामने लाकर रख दी है।

सीएमआईई के सितंबर के डाटा के मुताबिक, देश के जिन 10 राज्यों में सबसे ज्यादा बेरोजगारी है उनमें से 6 में बीजेपी की सरकार। इनमे भी बीजेपी शासित त्रिपुरा में सबसे ज्यादा बेरोजगारी दर है।

सर्वे से सामने आया है कि बीजेपी शासित हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, झारखंड, बिहार और उत्तर प्रदेश में बेरोजगारी सबसे ज्यादा है। बीजेपी शासित इस राज्य में 31.2 प्रतिशत बेरोजगारी दर है। इसके बाद दिल्ली में 20.4 तो वहीं हरियाणा में बेरोजगारी दर 20.3 प्रतिशत है। वहीं टॉप 10 में शामिल अन्य राज्यों में हिमाचल प्रदेश 15.6 प्रतिशत, पंजाब 11.1 प्रतिशत, झारखंड 10.09 प्रतिशत, बिहार 10.3 प्रतिशत, छत्तीसगढ़ 8.6 प्रतिशत और उत्तर प्रदेश में 8.2 बेरोजगारी है।

bjp

बेरोजगारी की राष्ट्रीय औसत 8.18 प्रतिशत है। भारतीय राज्यों के इस मासिक सर्वे में 43,600 घरों को शामिल किया गया है। त्रिपुरा की बेरोजगारी दर राष्ट्रीय औसत से 3.8 गुना अधिक है, जबकि दिल्ली और हरियाणा की दरें राष्ट्रीय औसत से 2.5 गुना अधिक हैं।

बात करें दक्षिण राज्यों की तो यहां पर बेरोजगारी उत्तर भारत के मुकाबले कहीं कम है। कर्नाटक और तमिलनाडु में सबसे कम बेरोजगारी दर है। कर्नाटक में 3.3 प्रतिशत तो तमिनाडु में 1.8 प्रतिशत बेरोजगारी दर है।

Loading...