देवबंद | उत्तर प्रदेश में बीजेपी को प्रचंड बहुमत प्राप्त हुआ है. इसलिए बीजेपी अब अपने हिंदुत्व के एजेंडे पर आगे बढ़ने के लिए आतुर दिखायी दे रही है. यही वजह है की बीजेपी ने प्रदेश के सबसे बड़े हिन्दुत्वादी चहरे योगी आदित्यनाथ को मुख्यमंत्री बनाया है. योगी ने मुख्यमंत्री बनते ही बूचड़खानों पर नकेल कसनी शुरू भी कर दी है. उधर मुस्लिम बहुल क्षेत्र देवबंद में इसकी धमक सुनाई देने लगी है.

देवबंद सीट से जीत दर्ज करने वाले बीजेपी विधायक ब्रिजेश सिंह ने पुरे शहर में विवादित पोस्टर लगवा अपनी मंशा साफ़ कर दी है. ब्रिजेश सिंह ने जीतने के बाद कहा था की वो मुख्यमंत्री जी से देवबंद का नाम बदलकर देववृन्द करने की मांग करेंगे. इसके अलावा इस मुद्दे को विधानसभा में भी उठाएंगे. अब इसी राह पर चलते हुए ब्रिजेश सिंह ने पुरे देवबंद में देववृन्द नाम से पोस्टर लगवा दिए है.

इन पोस्टर में लिखा गया है की बीजेपी को अभूतपूर्व सहयोग और समर्थन देने के लिए सभी देववृन्द वासियों का कोटि कोटि धन्यवाद्. इस पोस्टर में देवबंद का नाम बदलकर देववृन्द लिखा गया है. पोस्टर में देवबंद को देववृन्द लिखने पर जब ब्रिजेश सिंह से पुछा गया तो उन्होंने कहा की मैं किसी का दिल नही दुखाना चाहता. ना ही इसका सम्बन्ध किसी मुस्लिम संस्था से है.

उन्होंने आगे कहा की में तो बस देवबंद का नाम बदलकर देववृन्द करना चाहता हूँ और यह सब विकास के लिए किया जा रहा है. ब्रिजेश ने यह भी बताया की उनके समर्थक पहले भी मुग़ल स्मारकों के नाम बदलने की मांग कर चुके है. ब्रिजेश सिंह का तर्क है की देवबंद , दारुल उलूम देवबंद के नाम से नही बल्कि महाभारत काल से प्रसिद्ध है. यही पर पांड्वो ने पूजा की थी एवं यह इलाका पहले से ही देववृन्द नाम से जाना जाता रहा है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?