बीजेपी विधायक अभय वर्मा ने विवादित नारों के साथ निकाला पूर्वी दिल्ली में मार्च

पूर्वी दिल्ली के लक्ष्मीनगर इलाके में नवनिर्वाचित बीजेपी विधायक अभय वर्मा ने विवादित नारों के साथ मार्च निकालकर माहौल को गरमाने की कोशिश की। वर्मा के मार्च में ‘पुलिस के ह’त्यारों को, गो’ली मा’रो सालों को।’ के विवादित नारे लगे। उनका विडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

इंडियन एक्सप्रेस ने इस बारे में अभय वर्मा से पूछा तो उन्होंने कहा, “लोगों ने जबरन दुकानें बंद करवा दी थीं। मैं उन्हें दोबारा खुलवाने गया था। इसी कड़ी में मार्च के दौरान कुछ लोगों ने ऐसे नारे लगाए लेकिन मैंने उनसे ऐसी नारेबाजी नहीं करने को कहा। जब बड़ी भीड़ होती है तो ऐसी स्थितियों में सावधान रहना होगा।” लक्ष्मीनगर के कई इलाकों में इसके बाद लोगों ने दुकानें बंद कर दी।

बता दें कि अब तक 18 लोगों की इस हिं’सा जान चली गई है। वहीं, 200 से अधिक लोग घा’यल हैं, जिनका विभिन्न अस्पतालों में इलाज जारी है। इसके साथ गाजियाबाद से लगी दिल्ली सीमा में लोग धीरे-धीरे इकट्ठा हो रहे हैं। इसी बीच केंद्रीय मंत्री जी. किशन रेड्डी ने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून को लेकर देश की राजधानी दिल्ली में पूरी साजिश के तहत हिं’सा फैलाई गई।

केंद्रीय गृह राज्यमंत्री ने कहा कि CAA-NRC विरोधी प्रदर्शनों के नाम पर आगजनी और दं’गा ‘पूरी तरह गलत’ है। साथ ही कहा कि जो लोग हिं’सा में शामिल थे उन्हें मैं चेतावनी देता हूं कि सरकार आग’जनी और हिं’सा में शामिल लोगों के खिलाफ हमारी सरकार आवश्यक कड़ी कार्रवाई करेगी।

दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता मनदीप सिंह रंधावा के मुताबिक, अभी तक दिल्ली हिं’सा में 130 आम लोग घाय’ल हुए हैं, जबकि 56 पुलिसकर्मियों को चो’ट पहुंची है। पुलिस ने अभी तक 11 एफआईआर दर्ज कर ली है और उपद्रवियों की पहचान की जा रही है। दिल्ली की हिंसा में पुलिस का एक जवान शहीद भी हुआ है, जबकि दो IPS अफसर घायल हुए हैं।

विज्ञापन