Friday, August 6, 2021

 

 

 

CAA पर विरोध-प्रदर्शन से उड़े मोदी सरकार के होश, बोली – अब हम डैमेज कंट्रोल की स्थिति में

- Advertisement -
- Advertisement -

एनआरसी और सीएए के खिलाफ देश भर में हुए बड़े पैमाने पर विरोध-प्रदर्शन को लेकर बीजेपी नेता सकते में है। दरअसल उन्हे उम्मीद ही नहीं थी कि ऐसा विरोध-प्रदर्शन होगा।

भाजपा नेताओं ने न्यूज एजेंसी रॉयटर्स से कहा- हमें थोड़े-बहुत विरोध की उम्मीद थी, देशभर में विरोध को देखकर हम चौंक गए। हम मुस्लिम वर्ग के छिटपुट विरोध के लिए तैयार थे, लेकिन इसकी उम्मीद नहीं थी कि देशभर के बड़े शहरों में दो हफ्ते तक इस तरह विरोध किया जाएगा।

केंद्रीय राज्य मंत्री संजीव बालियान ने कहा, ‘सिर्फ मैंने ही नहीं, भाजपा के अन्य सांसद भी जनता की ऐसी नाराजगी नहीं सोच सकते थे।’ उन्होंने कहा, ‘मुझे लगता है कि इस बिल को पारित कराने के पीछ जो राजनीतिक गणित लगाई जानी चाहिए थी, वो नहीं लगाई गई।’

इसी बीच रॉयटर्स ने एक अन्य केंद्रीय मंत्री के हवाले से कहा कि ‘अब हम डैमेज कंट्रोल मोड में हैं।’ खबर के मुताबिक भाजपा अब सहयोगी दलों के पास जा रही है ताकि नागरिकता कानून को लेकर खड़ी मुश्किल दूर किया जा सकें। इसके अलावा भाजपा और सहयोगी दलों ने एक अभियान शुरू किया है ताकि लोगों को यह बताया जा सके कि कानून भेदभाव करने वाला नहीं है।

बता दें कि नरेंद्र मोदी ने नागरिकता संशोधन कानून पर बुधवार को लखनऊ में लोगों से अपील कर चुके है। उन्होंने कहा कि विपक्षी भ्रम फैला रहे हैं। लोगों को इस भ्रम में पड़कर हिंसा नहीं करनी चाहिए और सरकारी संपत्ति को नुकसान नहीं पहुंचाना चाहिए। उधर, एक न्यूज एजेंसी को दिए इंटरव्यू में अमित शाह ने कहा- नागरिकता संशोधन कानून में किसी की नागरिकता लेने का प्रावधान नहीं है, नागरिकता देने का प्रावधान है। देश के मुस्लिमों को डरने की जरूरत नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles