jafar

ऑल इण्डिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड बाबरी मस्जिद मामलें में बीजेपी नेता सुब्रहमणयम स्वामी के दखल को खारिज करते हुए कहा कि देश के मुसलमानों को सुब्रहमणयम स्वामी का दखल किसी भी सूरत में स्वीकार नहीं होगा. उन्होंने आगे कहा कि ‘हम सुब्रहमण्यम स्वामी को अयोध्या विवाद में पक्षकार मानने से इनकार करते हैं.

जिलानी ने आगे कहा कि सुप्रीम कोर्ट में सुब्रहमणयम स्वामी द्वारा इस मामलें में पक्षकार बनने की जो अर्जी दाखिल की गई हैं. उसका विरोध किया जाएगा. क्योंकि मुसलमान चाहते हैं कि इस मामलें का सर्वोच्च न्यायालय से जल्द से जल्द निस्तारण हो. ऐसे में अब कोई नया झमेला न खड़ा हो.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

जीलानी ने कहा कि प्रीम कोर्ट में हिन्दू पक्ष की ओर से चार पक्षकार हैं-भगवान श्रीरामलला, निर्मोही अखाड़ा, हिन्दू महासभा और राजेन्द्र सिंह। इसके अलावा अगर कोई पांचवा पक्षकार बनता है तो उसका विरोध होगा.

गौरतलब रहें कि सुब्रहमणयम स्वामी ने हिन्दू पक्ष की ओर से पक्षकार बनते हुए अर्जी दाखिल की हैं. और वे इस मामले की सुनवाई जल्द ही चाहते हैं.

Loading...