000 t82hw e1507546389103 640x400

000 t82hw e1507546389103 640x400

नई दिल्ली | इस बार अर्थशास्त्र में रिचर्ड थेलर को नोबेल पुरस्कार से नवाजा गया है. रिचर्ड हमेश से नोट बंदी के समर्थक रहे है. इसलिए जब भारत में नोट बंदी लागु की गयी तो उन्होंने इसके समर्थन में एक ट्वीट किया था. उन्होंने लिखा था की मैं हमेशा से नोट बंदी का समर्थक रहा हूँ. अब जबकि रिचर्ड ने नोबेल पुरस्कार जीत लिया है इसलिए बीजेपी आईटी सेल ने उनके ट्वीट को भुनाने की कोशिश की.

इसलिए रिचर्ड के पुराने ट्वीट को निकालकर उन्होंने सोशल मीडिया पर शेयर करना शुरू कर दिया. बीजेपी आईटी सेल के हेड अमित मालवीय ने इसी ट्वीट को अपने ट्विटर हैंडल से रीट्वीट किया. इसके साथ उन्होंने यह भी बताया की रिचर्ड ने हाल ही में नोबेल प्राइज जीता है. धीरे धीरे बीजेपी के कई नेता और कुछ केन्द्रीय मंत्रियो ने भी रिचर्ड के उस ट्वीट को रीट्वीट करना शुरू कर दिया. लेकिन यह बीजेपी का यह दाँव जल्द ही उल्टा पड़ गया.

दरअसल 8 नवम्बर 2016 को नोट बंदी के एलान के बाद रिचर्ड थेलर ने ट्वीट किया,’ यह वही नीति है, जिसका मैंने लम्बे समय से समर्थन किया है. यह कैशलेस की और पहला कदम है और भ्रष्टाचार कम करने के लिए अच्छी शुरुआत है.’ लेकिन जब रिचर्ड थेलर को किसी ने यह बताया की नोट बंदी के साथ ही मोदी सरकार 2000 का नया नोट लेकर आ रही है तो वो हैरान रह गए.

उन्होंने अपने अगले ट्वीट में लिखा,’ सच में? अरे नही .’ लेकिन यह ट्वीट न अमित मालवीय को दिखाई दिया और न ही बाकी नेताओ को. इसलिए लोगो ने अमित समेत अन्य बीजेपी नेताओं को यह ट्वीट शेयर करना शुरू किया. इस पर काफी लोगो ने अमित को नसीहत देते हुए लिखा की केवल कट पेस्ट का काम न करो. अगर नोट बंदी पर रिचर्ड थेलर के विचार जानने है तो इस लिंक पर जाकर पढो. इस ट्वीट के साथ यूजर ने एक लिंक भी शेयर किया.

जिन बीजेपी नेताओं ने रिचर्ड के पुराने ट्वीट को रीट्वीट किया उनमे केंद्रीय मंत्री पियूष गोयल, केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह, भाजपा आईटी सेल के पूर्व मुखिया अरविंद गुप्ता, मुंबई से भाजपा प्रवक्ता सुरेश नऱुआ और अन्य नेता शामिल है. हालाँकि जब रिचर्ड के अन्य ट्वीट की जानकारी सामने आई तो पियूष गोयल ने इसे अपने अकाउंट से डिलीट कर दिया. लेकिन अमित मालवीय ने अभी भी इस ट्वीट को अपने अकाउंट से नही हटाया है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?