Sunday, September 26, 2021

 

 

 

बीजेपी का दांव बेकार – श्रीसंत को मिली करारी हार, तीसरे स्थान पर आए

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली। क्रिकेट में खेलने से अधिक विवादों में रहे श्रीसंत की राजनितिक पार्टी भी कुछ कमाल नही दिखा सकी । सियासी मैच में पहली ही गेंद पर क्लीन बोल्ड हुए श्रीसंत पर भाजपा का लगाया गया दांव भी बेकार गया।

तिरुवनंतपुरम सीट श्रीसंत का मुकाबला मौजूदा स्वास्थ्य मंत्री एवं कांग्रेस नेता वीएस शिवकुमार से था, जो इस सीट से सांसद भी रह चुके हैं, लेकिन श्रीसंत को हार का सामना करना पड़ा है। श्रीसंत को यहाँ नम्बर दो स्थान लाने के भी लाले पड़ गए ओर गिडपड़ के तीसरा स्थान हासिल किया.

विवादित ही रहा श्रीसंत का कैरियर

श्रीसंत केरल के एर्नाकुलम जिले से आते हैं। हालाँकि भाजपा में आने को लेकर सोशल मीडिया पर उनकी लोकप्रियता को काफी हद तक भुनाने की कोशिश की गयी लेकिन उन्हें लेकर जो फोटो पोस्ट किये गए उन्हें भी लोगो ने मजाक का मुद्दा बना लिया। हालाँकि बीजेपी ने उनके प्रचार के लिए कोई कसर बाकी नही छोड़ी थी. अपने क्रिकेट करियर के दौरान श्रीसंत की चर्चा अक्सर गलत वजहों से होती रही। साल 2013 में श्रीसंत को आईपीएल-6 में स्पॉट फ़िक्सिंग के आरोप में दिल्ली पुलिस ने हिरासत में ले लिया था। बाद में उन्हें जमानत मिल गई, लेकिन बीसीसीआई ने उनके क्रिकेट खेलने पर प्रतिबंध लगा दिया था।

2008 के आईपीएल का वाकया तो आपको याद होगा की किस तरह चांटा मारने को लेकर हाई वोल्टेज ड्रामा किया गया था, कथित चांटे के बाद श्रीसंत कैमरे पर फूट-फूट कर रोते दिखाई दिए थे। हरभजन सिंह पर आरोप लगे कि उन्होंने श्रीसंत को थप्पड़ मारा। टीवी पर सभी ने श्रीसंत को रोते हुए देखा, लेकिन बाद में श्रीसंत ने कहा कि उन्हें हरभजन से कोई शिकायत नहीं है और हरभजन उनके बड़े भाई के समान हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles