भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर ने गृह मंत्रालय से मांगी वीआईपी सुरक्षा

6:59 pm Published by:-Hindi News
bhim army chief

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में 2017 में हुई जातीय हिंसा के मामले में 16 महीने बाद जेल से रिहा हुए भीम आर्मी प्रमुख चन्द्रशेखर रावण ने अब केंद्रीय गृह मंत्रालय से वीआईपी सुरक्षा मांगी है।

भीम आर्मी के मीडिया प्रभारी अजय गौतम ने बताया कि गृह मंत्रालय को पत्र लिखकर मांग की गई है कि चंद्रशेखर को वीआईपी कैटिगरी की सुरक्षा दी जाए, क्योंकि उनकी जान को खतरा है। गौतम ने बताया कि दलितों के हित में चंद्रशेखर आजाद अब पूरे देश का भ्रमण करेंगे। ऐसी स्थिति में केंद्र सरकार को उन्हें सुरक्षा देनी चाहिए।

जेल से रिहा होने के बाद चंद्रशेखऱ ने कहा कि ‘सरकार डरी हुई थी क्योंकि सुप्रीम कोर्ट उसे फटकार लगाने वाली थी। यही वजह है कि अपने आप को बचाने के लिए सरकार ने जल्दी रिहाई का आदेश दे दिया।

ravan

बीजेपी पर निशाना साधते हुए उन्होने कहा था, ‘उनको मुझसे चुनाव में डर लगता है। लेकिन इससे मैं घबराने वाला नहीं हूं। देश में बहुजनों के खिलाफ होने वाले हर अत्याचार के खिलाफ हम आवाज बुलंद करेंगे। न्याय मिलने तक चुप नहीं बैठेंगे और अन्याय के खिलाफ जंग जारी रहेगी।’

रावण ने कहा कि साल 2019 के लोकसभा चुनाव में BJP को हराना है। बीजेपी सत्ता में तो क्या विपक्ष में भी नहीं आ पाएगी। बीजेपी के गुंडों से लड़ना है। उन्होंने कहा कि सामाजिक हित में गठबंधन होना चाहिए।

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें