bjp09 3566806 835x547 m

कानपुर । देश चुनावी मोड़ में जा चुका है। हर जगह आरोप प्रत्यारोप का शोर सुनाई देने लगा है। इसी शोर में एक मुद्दा अचानक से सब मुद्दों पर भारी पड़ने लगा है। जी हाँ, आप सही सोच रहे है। राम मंदीर का मुद्दा चुनाव से ठीक पहले सियासी गलियारों में गूँजने लगा है। पीछले 30 सालों से जिस मुद्दे ने एक राजनीतिक दल का औचित्य बना कर रखा है आख़िर उसे कैसे किनारे किया जा सकता है।

बरहाल सियासत के बीच कुछ ऐसे दल भी इस मुद्दे को उठाने का प्रयास कर रहे है जो भविष्य में अपनी सियासी ज़मीन तलाशने में लगे है। एक ऐसा ही दल है भीम सेना। पश्चिमी उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में दलितों और ठाकुरों के बीच हुए संघर्ष से सुर्ख़ियो में आया यह संगठन अब चंद्र्शेखर रावण के संगठन के नाम से ज़्यादा जाना जाता है। लेकिन इस बार यह संगठन अपने एक बयान की वजह से चर्चा में है।

दरअसल भीम सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेंद्र मान राम मंदीर को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने दावा किया है की राम एक काल्पनिक किरदार थे जबकि मस्जिद का निर्माण आज के युग में हुआ है। इसलिए अयोध्या में भव्य मस्जिद का निर्माण होना चाहिए। उन्होंने कोर्ट से जल्द मस्जिद के हक़ में फ़ैसला देने की अपील की। ऐसा न होने की सूरत में उन्होंने ख़ुद अयोध्या में मस्जिद बनाने का एलान किया।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

कानपुर के हलीम मुस्लिम कॉलेज में एक कार्यक्रम में पहुँचे राजेंद्र मान ने मीडिया से बात करते हुए उपरोक्त बातें कही। उन्होंने कहा,’ सदियों से दलितों का शोषण होता आया है। आज़ादी के बाद से दलित-मुस्लिम को केवल वोट बैंक के तौर पर इस्तेमाल किया गया है। अब जो दल हमारे हित की बात करेगा उसे ही हमारा समर्थन होगा। अयोध्या पर बोलते हुए उन्होंने कहा की हम मुस्लिम भाइयों के साथ मिलकर मस्जिद का निर्माण कराएँगे। अगर कोर्ट से हमारे ख़िलाफ़ फ़ैसला आता है तो हम उस फ़ैसले को नही मानेंगे।

Loading...