Sunday, August 1, 2021

 

 

 

भगवद् गीता को स्कूली शिक्षा में किया जा सकता हैं अनिवार्य, लोकसभा में विधेयक पेश

- Advertisement -
- Advertisement -

शैक्षिक संस्थाओं में नैतिक शिक्षा संबंधी पाठ्यपुस्तको में भगवद् गीता की शिक्षा को अनिवार्य किये जाने के प्रावधान वाले एक निजी विधेयक को शुक्रवार को लोकसभा में पेश किया गया. इस बिल को दक्षिणी दिल्ली से बीजेपी के सांसद रमेश बिधूड़ी ने पेश किया.

भाजपा सदस्य रमेश बिधूड़ी ने ‘शैक्षिक संस्थाओं में नैतिक शिक्षा पाठ्यक्रम के रूप में भगवद् गीता का अनिवार्य शिक्षण विधेयक, 2016’ पेश किया जिसमें प्रस्ताव है कि भगवद्गीता को पाठ्यक्रम में अनिवार्य शिक्षण के लिए शामिल किया जाए.

सत्तारूढ़ दल के ही गोपाल चिनय्या शेट्टी ने गौसंरक्षण के लिए एक प्राधिकरण और राज्यस्तर पर भी इस तरह के प्राधिकारों का गठन करने के प्रस्ताव वाला ‘गौ संरक्षण प्राधिकरण विधेयक, 2016’ पेश किया. भाजपा के राजेंद्र अग्रवाल ने आतंकवाद के समर्थक देशों को चिह्नित करने और ऐसे राष्ट्रों के साथ व्यापार संबंधों को समाप्त करने के प्रावधान वाले निजी विधेयक को पेश किया.

भाजपा के किरीट सोलंकी ने अनुसूचित जातियों और अनुसूचित जनजातियों को निर्धनता से नीचे रह रहे लोगों :बीपीएल: की श्रेणी में शामिल करने वाले निजी विधेयक को पेश किया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles