Monday, September 20, 2021

 

 

 

संत की उपाधि दिए जाने से पहले ही मदर टेरेसा भारत के लिए संत थी: हामिद अंसारी

- Advertisement -
- Advertisement -

hamid

उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी ने रविवार को नेताजी इंडोर स्टेडियम में मदर टेरेसा को संत की उपाधि मिलने के अवसर पर आयोजित एक कार्यक्रम में कहा कि संत की उपाधि दिए जाने से पहले ही मदर टेरेसा भारत के लोगों के लिए संत हो गई थीं.

उन्होंने आगे कहा, वह करुणा की साक्षात मूर्ति थीं. मदर ने दूसरों का दर्द दूर करने के लिए काम किया. उन्होंने कहा कि संत टेरेसा यह मानती थीं कि दूसरों को कुछ देने में ही असली आनंद है. एक व्यक्ति जब दूसरों को कुछ देता है तो वह पानेवाले व्यक्ति के लिए कीमती उपहार होता है.

अंसारी ने कहा, मिशनरीज ऑफ चैरिटीज शोषितों व पीड़ितों की सेवा में समर्पित रही है. संस्था जरूरतमंदों व उपेक्षितों की सेवा धार्मिक भावना से परे होकर कर रही है. संत टेरेसा के लिए यही सच्ची श्रद्धांजलि है.

उन्होंने आगे कहा, कृतज्ञ राष्ट्र ने संत टेरेसा को भारत रत्न की उपाधि से सम्मानित किया. उन्हें नोबेल पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया. वह आज भी गरीबों और असहायों के बीच नजर आती हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles