भारत के सबसे बड़े दानदाता अजीम प्रेमजी जुलाई में होंगे रिटायर, बेटा रिशद को मिली कमान

5:46 pm Published by:-Hindi News
azim premji 20180739497

नई दिल्ली: सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) क्षेत्र के उद्यमी एवं समाजसेवी अजीम प्रेमजी ने अपने रिटायरमेंट का ऐलान कर दिया है। बीएसई और एनएसई को जारी की गई जानकारी के मुताबिक, उनका कार्यकाल 30 जुलाई, 2019 को खत्म होगा। इसके बाद उनका बेटा रिशद प्रेमजी एक्जीक्यूटिव चेयरमैन बनेगा।

अजीम प्रेमजी ने एक बयान में कहा, ‘यह मेरे लिए खासा लंबा और संतोषजनक सफर रहा। अगर भविष्य की बात करें तो मैंने अपना ज्यादातर समय समाजसेवा से जुड़ी गतिविधियों में लगाने की योजना बनाई है। मुझे रिशद की लीडरशिप में पूरा भरोसा है, जो कंपनी को अगले पड़ाव पर ले जाएंगे।

विप्रो के बोर्ड ने ऐलान किया कि चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिसर और एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर आबि दअली जेड नीमचवाला को कंपनी का CEO और प्रबंध निदेशक नियुक्त किया गया है। ये सभी बदलाव 31 जुलाई, 2019 से लागू हो जाएंगे. हालांकि इन बदलावों के लिए शेयरहोल्डर्स से मंजूरी लेनी होगी।

बता दें कि हाल ही में अजीम प्रेमजी ने कंपनी में अपनी शेयरहोल्डिंग का अतिरिक्त 34 प्रतिशत हिस्सा परोपकार के लिए देने का फैसला किया। इन 34 प्रतिशत शेयरों की कीमत 7.5 बिलियन डॉलर (52,750 करोड़ रुपये) के आसपास बताई गई। ब्लूमबर्ग के मुताबिक अजीम प्रेमजी 18.6 अरब डॉलर की दौलत के साथ भारत के दूसरे सबसे बड़े अमीर हैं।

azim premji 20180739497

अजीम प्रेमजी फाउंडेशन के अनुसार, इस दान के बाद अजीम प्रेमजी द्वारा परोपकार और धर्मार्थ गतिविधियों के लिए दान की गई रकम बढ़कर 1.45 लाख करोड़ रुपए या 21 अरब डॉलर के स्तर तक पहुंच गई है। इस प्रकार अजीम प्रेमजी विप्रो के कुल 67 फीसदी शेयर दान कर चुके हैं। 73 वर्षीय प्रेमजी, बिल गेट्स और वॉरेन बफेट द्वारा शुरू किए गए ‘द गिविंग प्लेज’ कार्यक्रम का भी हिस्सा हैं। इसके तहत अरबपति लोग यह वादा करते हैं कि वे अपनी संपत्ति का आधा हिस्सा परोपकार के लिए दे देंगे।

अजीम प्रेमजी की फाउंडेशन तीन क्षेत्रों में काम करती है। इनमें सरकारी स्कूलों का स्तर बेहतर करना, अजीम प्रेमजी विश्वविद्यालय में पढ़ रहे छात्रों को ज्यादा से ज्यादा सब्सिडी देना और अन्य क्षेत्रों से जुड़े गैर-लाभकारी काम।उनके योगदान से 150 से ज्यादा संस्थाओं को आहार, घरेलू हिंसा से पीड़ित महिलाओं और मानवतस्करी जैसे मुद्दों पर काम करने में मदद मिली है।

Loading...

खानदानी सलीक़ेदार परिवार में शादी करने के इच्छुक हैं तो पहले फ़ोटो देखें फिर अपनी पसंद के लड़के/लड़की को रिश्ता भेजें (उर्दू मॅट्रिमोनी - फ्री ) क्लिक करें