firn

firn

आर्ट ऑफ लिविंग के संस्थापक श्री श्री रविशंकर ने आज राजधानी लखनऊ में ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के सदस्य मौलाना खालिद राशिद फरंगी महली से मुलाक़ात की.

मुलाक़ात के बाद   नेकहा, ‘‘बातचीत के जरिए हम हर समस्या हल कर सकते हैं. अदालत का सम्मान है लेकिन अदालत दिलों को नहीं जोड़ सकती…अगर हमारे दिल से एक फैसला निकले तो उसकी मान्यता सदियों तक चले.’’

उन्होंने आगे कहा कि हम मानते हैं कि काफी देर हो चुकी है लेकिन संभावनाएं मौजूद हैं. हम कोई एजेंडा लेकर नहीं चल रहे हैं बल्कि एक रास्ता खोज रहे हैं.

रविशंकर ने कहा, ‘‘समय दीजिए. बहुत जल्दबाजी मत करिए. हम सबसे बात करेंगे. मुझे पूरा विश्वास है कि जब धार्मिक लोग एकत्र होंगे तो सबसे बात होगी,’’ रविशंकर ने यह विश्वास भी जताया कि इस प्रयास के जरिए देश के लिए कुछ बड़ा हासिल किया जा सकेगा.

वहीँ फरंगी महली ने भी उम्मीद जताते हुए कहा कि अगर दोनों ओर के नेता हर स्तर पर नियमित रूप से बैठकर बात करें तो मतभेद दूर हो जाएंगे.

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें