ramesh shah 625x300 1529565816817

गोरखपुर टेरर फंडिंग मामले में उत्तर प्रदेश और महाराष्ट्र पुलिस के आतंकवाद रोधी दल (एटीएस) ने संयुक्त अभियान में मास्टरमाइंड रमेश शाह को पुणे से गिरफ्तार किया है। रमेश आतंकियों की फंडिंग करता था।

यूपी एटीएस के मुताबिक रमेश शाह पाकिस्तानी हैण्डलरों के निर्देश पर काम कर रहा था। रमेश देश में कई लोगों के खातों में रकम जमा करवाता था। उसके बाद खातों से कमीशन काटकर बाकी रकम पाकिस्तानी हैण्डलरों को देता था। उसे ट्रांजिट रिमांड पर अब लखनऊ लाया जा रहा है।

एटीएस महानिरीक्षक असीम अरुण ने आईएएनएस को बताया कि इस आपराधिक षडयंत्र में छह लोग शामिल थे और उन्होंने पकिस्तानी हैंडल के दिशानिर्देश पर इंटरनेट के जरिए विभिन्न बैंक खातों में राशि वितरित की। इन छह लोगों को 24 मार्च को गोरखपुर से गिरफ्तार किया गया था।

एटीएस अधिकारी ने कहा कि शाह के इशारे पर पाकिस्तानी हैंडलर और आतंकवादी ऑपरेटरों के बीच एक करोड़ रुपये से अधिक की राशि का आदान-प्रदान हुआ। बड़ी रकम मध्यपूर्व, जम्मू एवं कश्मीर, केरल से आती है और इसका वितरण विभिन्न राज्यों में किया जाता है।

बता दें कि रमेश शाह बिहार के गोपालगंज का रहने वाला है और वह बीते कई वर्षो से गोरखपुर का एक शॉपिंग मार्ट चला रहा था।

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?