Thursday, October 28, 2021

 

 

 

हिन्दू संगठनों के विरोध पर ‘बेग़म जान’ सीरियल को किया गया प्रतिबंधित

- Advertisement -
- Advertisement -

असम में हिन्दू संगठनों के कथित तौर पर लव जिहाद को बढ़ावा देने के आरोपो के बाद एक टेलीविजन धारावाहिक पर दो महीने का प्रतिबंध लगा दिया गया है। सीरियल में हिन्दू महिला और एक मुस्लिम पुरुष को प्रमुख पात्र के तौर पर दिखाया गया है।

एनडीटीवी की रिपोर्ट के मुताबिक, यह टीवी शो एक ऐसी हिंदू लड़की के बारे में है, जो एक मुस्लिम युवक की मदद से समाज से लड़ती है। आरएसएस से जुड़े हिंदू जागरण मंच और अन्य समूह इस धारावाहिक के प्रसारण का विरोध कर रहे हैं। आरोप है कि सीरियल की वजह से हिन्दुओं की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंची है।

मामले में गुवाहाटी पुलिस के आयुक्त एमपी गुप्ता ने कहा, ‘जिलास्तरीय निगरानी समिति की बैठक में इस पर चर्चा हुई. इस समिति में 10 सदस्य हैं। इस पर दो महीने के प्रतिबंध का फैसला लिया गया, क्योंकि ऐसी आशंकाएं हैं कि शांति भंग हो सकती है और प्रथमदृष्टया ऐसे आरोप लगे हैं, जिससे समाज के एक वर्ग की धार्मिक भावनाएं आहत हो सकती हैं।’

पुलिस ने कहा है कि उसने हिन्दू जागरण मंच, अखिल असम ब्राह्मण युवा परिषद, यूनाइटेड ट्रस्ट ऑफ असम और गुणजीत अधिकारी की व्यक्तिगत शिकायत पर ये कार्रवाई की है। इस बीच खबर है कि सीरियल के प्रोड्यूसर ने शूटिंग रोक दी है और अब पुलिस के आदेश के खिलाफ कोर्ट जाने की तैयारी कर रहे हैं।

सीरियल में बेगम जान का रोल निभाने वाली अभिनेत्रा प्रीति ककोंगना ने आरोप लगाया है कि कुछ दिनों से उसे रेप और मर्डर की ऑनलाइन धमकियां मिल रही थीं। हालांकि, प्रीति ने सीरियल के जरिए लव जिहाद भड़काने के आरोप को सिरे से खारिज कर दिया।

उन्होंने कहा, ‘मेरा कानून और प्रशासन पर विश्वास है। आजकल कलाकारों को सोशल मीडिया पर ट्रोल करना ट्रेंड बन गया है। यह बहुत दर्दनाक है।’ वहीं रेंगोनी चैनल का कहना है कि उनका धारावाहिक किसी भी तरह से किसी धर्म या समुदाय के लिए अपमानजनक नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles