जंतर मंतर भड़काऊ नारेबाज़ी – अश्विनी उपाध्याय हिरासत में

देश की राजधानी दिल्ली (Delhi) के जंतर-मंतर पर 8 अगस्त को एक प्रदर्शन के दौरान लगे भड़काऊ नारों का मामला गंभीर हो चला है. दिल्ली पुलिस ने मंगलवार को बड़ा एक्शन लेते हुए वकील अश्विनी उपाध्याय को हिरासत में ले लिया है.

अश्विनी उपाध्याय के अलावा विनोद शर्मा, दीपक सिंह, दीपक, विनीत क्रांति, प्रीत सिंह को हिरासत में लिया गया है. सूत्रों के मुताबिक, जल्द ही इन सभी को गिरफ्तार किया जा सकता है.

मंगलवार को भी नारेबाजी मामले में दिल्ली पुलिस ने अश्विनी उपाध्याय, प्रीत, क्रांति समेत कुल 6 लोगों से पूछताछ की. इसके अलावा क्राइम ब्रांच की ओर से दीपक सिंह नाम के शख्स से पूछताछ की जा रही है. दिल्ली पुलिस को अभी पिंकी चौधरी की तलाश है, जो नारे लगा रहा था.

आपको बताते चलें की दिल्ली के जंतर-मंतर पर मुद्दा सियासी हो चला है तथा इसको लेकर एआईएमआईएम प्रमुख ओवैसी ने ज़ोरदार तरीके से आवाज़ उठायी थी जिसके बाद सोशल मीडिया पर यह मुद्दा वायरल होने लगा था, इस मामले को लेकर पुलिस की कार्यशैली पर भी सवालिया निशान उठ रहे थे.

वकील अश्विनी उपाध्याय ने कहा कि इस देश में निर्दोष लोगों को अगर कोर्ट जाना पड़े और थाने से न्याय न मिले तो बड़ी विडंबना है. वो नारे इसलिए लग रहे हैं क्योंकि कानून घटिया है. अगर कानून कठोर होता और पिछले 20 साल में 4 लोगों को जेल भेजा गया होता तो शायद ऐसे नारे नहीं लगते.

विज्ञापन