Wednesday, June 29, 2022

आर्मी कोर्ट ने मेजर गोगोई को दोषी पाया, होटल में नाबालिग के साथ पकड़ाए थे

- Advertisement -

पिछले साल जम्मू-कश्मीर में एक शख्स को पत्थरबाज बताकर जीप के आगे बांधकर चर्चा में आए भारतीय सेना के मेजर लीतुल गोगोई को नाबालिग लड़की से जुड़े विवाद में आर्मी कोर्ट ने दोषी पाया है। गोगोई 23 मई को श्रीनगर के एक होटल में कथित तौर पर एक नाबालिग के साथ पकड़ाये थे। उनके खिलाफ अब अनुशासनात्मक कार्रवाई कर सकती है।

बता दें कि जम्मू कश्मीर पुलिस ने गोगोई को होटल से एक लड़की के साथ गिरफ्तार किया गया था। दरअसल ड्यूटी री-जॉइन करने से पहले आर्मी ऑफिसर लड़की के साथ रात बिताने वाले थे। लेकिन होटल की और से अनुमति नहीं मिलने के चलते उनका स्टाफ से झगड़ा हुआ था।

होटल के मालिक मंसूर अहमद ने बताया था कि आर्मी मेजर ने ऑनलाइन होटल की बुकिंग करवाई थी और श्रीनगर एयरपोर्ट से होटल पहुंचे। अहमद ने बताया ‘गोगोई ने रजिस्ट्रेशन फॉर्म पर दो लोगों का नाम लिखा था। होटल मैनेजमेंट ने उनसे दो आधार कार्ड देने के लिए कहा, इसमें से एक लोकल कश्मीरी लड़की का था, जो कि नाबालिग थी।’

gog

घटना के बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर गोगोई को आर्मी यूनिट के हवाले कर दिया था। फिर सेना ने भी कोर्ट ऑफ इन्‍क्‍वायरी के आदेश दिए थे। आर्मी चीफ बिपिन रावत ने कहा था कि अगर मेजर गोगोई ने कोई गलत काम किया है तो उन्हें उचित दंड दिया जाएगा। सेनाध्‍यक्ष ने कहा, ‘भारतीय सेना में यदि किसी ने कुछ भी गलत किया और वह हमारे संज्ञान में आ गया तो उस मामले में कड़ी कार्रवाई की जाएगी।’

हालांकि अब भी औपचारिक रूप से जांच रिपोर्ट सामने आना बाकी है। COI ने अभी अपनी जांच पूरी नहीं की है, क्योंकि कानूनी जांच का भी इंतजार किया जा रहा है।

- Advertisement -

Hot Topics

Related Articles