सेना प्रमुख बिपिन रावत बोले – भारत की सुरक्षा में लग सकती है सेंध….

नई दिल्ली. सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने मंगलवार को कहा कि देश के सुरक्षाबलों के लिए गोपनीयता बेहद अहम मुद्दा है। यदि इसके साथ समझौता होता है तो कोई योजना काम नहीं करेगी। आज हम ऐसी प्रणालियों पर काम कर रहे हैं, जहां घालमेल संभव है। हमें इसके लिए स्वदेशी प्रणाली विकसित करने की जरूरत है।

सेना प्रमुख ने आगे कहा कि प्रौद्योगिकी तेजी से बदल रही है, अगर हम खरीद चक्रों में सुधार नहीं करते हैं, तो हम हमेशा अप्रचलित उपकरणों के साथ ही काम करते रह जाएंगे। उन्होंने कहा कि हमें अपने सेना की जरूरतों के लिए खरीद प्रक्रिया को बरकरार रखने की आवश्यकता है ताकि सेना आधुनिक होती रहें।

जनरल रावत ने कहा, ‘‘सेना में समन्वय के साथ काम करना एक ऐसा मुद्दा है, जिसके समाधान की जरूरत है। ऐसा केवल सभी संचार नेटवर्क को जोड़कर किया जा सकता है। इंटरनेट युग में सूचना डोमेन संचार का एक बेहद महत्वपूर्ण पहलू है। विपरीत स्थितियों में भी सूचना सुरक्षा की क्षमताएं बढ़ाने की जरूरत है।’’

सेना प्रमुख बिपिन रावत ने जोर देते हुए कहा कि आधुनिक युद्ध के मैदान में सफलता निश्चित रूप से संचार तकनीक (Communication Technology) निर्भर करती है। उन्होंने कहा कि रक्षा संचार नेटवर्क के चलते ही भारत की तीनों सेनाओं (आर्मी, नेवी, एयरफोर्स) में सामंजस्य बना है और इन्हें एक साथ लाया गया है।

विज्ञापन