Sunday, September 19, 2021

 

 

 

ISRO की एक और कामयाबी – सबसे हल्के सैटेलाइट को सफलतापूर्वक किया लॉन्च

- Advertisement -
- Advertisement -

भारतीय स्पेस एजेंसी इसरो ने गुरुवार देर रात दुनिया के सबसे हल्के उपग्रह – कलाम-सैट वीटू को पृथ्वी की कक्षा में स्थापित कर बड़ी उपलब्धि नाम की है।

इसरो ने गुरुवार देर रात श्रीहरिकोटा के सतीश धवन अंतरिक्ष केन्द्र से दुनिया के सबसे हल्के उपग्रह को पृथ्वी की कक्षा में सफलतापूर्वक स्थापित कर दिया। इसरो के पीएसएलवी-सी44 रॉकेट ने गुरुवार को श्रीहरिकोटा से भारतीय सेना का उपग्रह माइक्रोसैट और छात्रों का उपग्रह कलामसैट लेकर अंतरिक्ष के लिए उड़ान भरी थी।

इसरो ने बताया कि पीएसएलवी-सी44 ने सेना के उपग्रह माइक्रोसैट-आर को सफलतापूवर्क उसकी कक्षा में स्थापित किया। इसरो के 2019 के पहले मिशन में 28 घंटे की उल्टी गिनती के बाद रात 11 बजकर 37 मिनट पर पीएसएलवी-सी44 ने उड़ान भरी। यह पीएसएलवी की 46वीं उड़ान है।

डॉ. के सिवन ने कहा, “इस मिशन में कई नई तकनीक का इस्तेमाल हुआ है। पहली बार इसमें पीएसएलवी-सी44 की पेलोड क्षमता को बढ़ाया गया है। भारत के गणतंत्र दिवस के ठीक दो दिन पहले इसका लॉन्च एक बड़ी सफलता है और देश के लिए एक तोहफा है।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles