Friday, December 3, 2021

एनआरसी के अंतिम ड्राफ्ट में था नाम, आपत्ति के बाद मुस्लिम बुजुर्ग ने की खुद’खुशी

- Advertisement -

असम में लागू की गई एनआरसी ने लोगों का जीवन दूभर कर दिया है। लोग अब मौत को गले लगा रहे है। ताजा मामला कामरूप जिले का है। जहां अशरब अली नामक शख्स ने एनआरसी के चलते अपनी जीवनलीला समाप्त कर ली।

बता दें कि अशरब अली का नाम एनआरसी के अंतिम ड्राफ्ट में शामिल था, लेकिन किसी के आपत्ति जताने के कारण उनका नाम लिस्ट से निकाल दिया गया। एनआरसी से नाम हटने पर अशरब अली परेशान थे। पड़ोसियों का कहना है कि इसी चिंता के कारण उन्होंने आत्महत्या कर ली।

बता दें कि डॉक्युमेंट में अली की उम्र 88 साल बताई जा रही है और उनका नाम 1971 के वोटर लिस्ट में भी शामिल है। वहीं, इस मामले में पुलिस ने आत्महत्या की बात से इनकार किया है। अली के रिश्तेदार फजलुर रहमान के अनुसार, एनआरसी से नाम हट जाने पर अशरब को 23 मई को सुनवाई के लिए रंगिया जाना पड़ा। वहां सुनवाई के बाद उनका बॉयोमीट्रिक्स स्कैन भी हुआ था।

nrc 650x400 81514750773

इस बीच गांव में अफवाह उड़ी कि बॉयोमीट्रिक्स स्कैन उन लोगों का होता है, जो बाहर से इस देश में आते हैं, ताकि बाद में पुलिस उनको आसानी से पकड़ सके। गांव वालों की बातें सुनकर अशरब चिंतित हो गए थे। बताया जा रहा है कि इसी चिंता और डर के कारण उन्होंने आत्महत्या कर ली।

अली के रिश्तेदार रहमान के अनुसार, अशरब ने किसी जानकार के पास जाने के लिए पैसे मांगे। उसने कहा था कि जानकार के बच्चों के लिए इफ्तार पर कुछ खाने के लिए ले जाएगा, लेकिन वह वहां नहीं गया। उन पैसों से उसने जहर खरीदा और उसे खा लिया।

बता दें कि अशरब अली शनिवार (25 मई) की शाम लापता हो गए थे। उनकी डेडबॉडी रविवार (26 मई) को सोंटोली में एक स्कूल के पास से मिली। कामरूप के अडिशनल एसपी संजीब सैकिया ने बताया कि घटनास्थल के पास से किसी प्रकार के जहर का निशान नहीं मिला है। ऐसे में पुलिस अभी जहर खाने की बात की पुष्टि नहीं कर रही। पुलिस को पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट का इंतजार है।

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles