देश के साथ गद्दारी करते हुए पाकिस्तान की ख़ुफ़िया एजेंसी के लिए जासूसी करने के आरोप में मध्य प्रदेश के जबलपुर से लेफ्टिनेंट कर्नल रैंक के एक आर्मी ऑफिसर को गिरफ्तार किया गया है.

जांच एजेंसियों के अनुसार, सेना अधिकारी ने आईएसआई के हनी ट्रैप में फंसकर कुछ अहम जानकारियां दुश्‍मन को लीक कर दी हैं. मामला जबलपुर में 506 आर्मी बेस वर्कशॉप से जुड़ा हुआ है. कार्रवाई के बाद अफसर के दफ्तर को सील कर दिया गया है.

इसके अलावा ऑफिस में मौजूद कंप्यूटर की हार्ड डिस्क को भी जांच के लिए कब्जे में ले लिया गया है. दरअसल आर्मी अफसर अकाउंट में एक करोड़ की रकम ट्रांसफर होने के बाद से ही शक के घेरे में था. मामले की गंभीरता की वजह से फिलहाल आर्मी अफसर के नाम का खुलासा नहीं किया गया.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

ध्यान रहे इससे पहले 9 फरवरी को दिल्‍ली पुलिस की स्पेशल सेल ने आईएसआई के लिए जासूसी करने और उसको गोपनीय दस्तावेज मुहैया कराने के आरोप में दिल्ली एयरफोर्स के ग्रुप कैप्टन अरुण मारवाह (51) को दिल्ली से गिरफ्तार किया है. फिलहाल वह 14 दिन की न्यायिक हिरासत में है.

Loading...