anna jantar lokpal c.jpg 5733093c304b2 l

anna jantar lokpal c.jpg 5733093c304b2 l

रालेगन सिद्धि । लोकपाल आंदोलन का सबसे बाद चेहरा रहे सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हज़ारे ने मोदी सरकार पर बड़ा हमला बोला है। उन्होंने भाजपा पर पीछले तीन साल में 80 हज़ार करोड़ चंदा लेने का आरोप लगाते हुए कहा की मोदी सरकार की अगवाई में भारत एशिया का सबसे भ्रष्ट देश बन गया है। अन्ना हज़ारे ने इन आरोपो के साथ ही नए आंदोलन के लिए हुंकार भरी।

उन्होंने अगले साल 23 मार्च को फिर से आंदोलन करने की बात कही। न्यूज़ एजेन्सी आईएएनएस के अनुसार अन्ना हज़ारे ने शुक्रवार को रालेगन सिद्धि में सामाजिक कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए कहा की पीछले तीन सालों से में चुप हूँ क्योंकि किसी भी नई सरकार को कुछ समय देना चाहिए। लेकिन अब समय आ गया है। मज़बूत लोकपाल और किसानो की समस्याओं के लिए 23 मार्च से आंदोलन शुरू कर रहा हूँ।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

अन्ना हज़ारे ने आगे कहा की मैंने किसानो की समस्याओं और लोकपाल के लिए प्रधानमंत्री को 32 पत्र लिख चुका हूँ लेकिन उन्होंने एक भी पत्र का जवाब नही दिया। फ़िलहाल देश में किसानो की हालत बहुत ख़राब है। उनको फ़सल का सही दाम नही मिल रहा। बैंक ऊँचे ब्याज पर किसानो को क़र्ज़ दे रहे है। भारतीय रिजर्व बैंक को सभी किसानों को दिए जाने वाले ऋण पर ब्याज दर तय करना चाहिए और किसानों के हितों को देखते हुए बैंकों को कृषि ऋण की ब्याज दर तय करने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए।

मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए अन्ना हज़ारे ने कहा की पीछले तीन सालों में भारत, एशिया का सबसे भ्रष्ट देश बन चुका है जबकि भाजपा के पास इन तीन सालों में 80 हज़ार करोड़ रुपय का चंदा आया है। अन्ना ने ‘फोर्ब्स पत्रिका’ के एक आलेख में प्रकाशित ट्रांसपैरेंसी इंटरनेशनल सर्वे का हवाला देते हुए ये बात कही। उन्होंने कहा कि मैं यह दावा नही कर रहा लेकिन एशियाई देशों में सर्वेक्षण करवाने के बाद ये फोर्ब्स पत्रिका में प्रकाशित हुआ है।

Loading...