भाजपा नेता इशरत जहां ने गुरुवार को पश्चिम बंगाल पुलिस में शिकायत दर्ज कराई कि स्थानीय लोगों ने मुझे मकान खाली करने के लिए धमकी दी है। ये सभी लोग मेरे हिजाब पहनकर हनुमान चालीसा के पाठ में शामिल होने से नाराज हैं।

इस मामले में आज तक न्यूज चैनल पर एक लाइव डिबेट हुई। डिबेट के दौरान एंकर और मुस्लिम पैनलिस्ट की जमकर बहस हुई। बहस के दौरान मुस्लिम पैनलिस्ट ने एंकर  अंजना ओम कश्यप पर दलाली करने का आरोप लगाया। जिसके चलते मुस्लिम पैनलिस्ट को डिबेट से बाहर कर दिया गया।

डिबेट में आईआरएफ के मीडिया संयोजक इलियास शराफुद्दीन से जब एंकर ने कहा ‘आपकी दिक्कत ये है कि जब महिलाओं की आवाज बुलंद हो जाती है तो आपके पैरों के नीचे की जमीन खिसकने लगती है। आपसे इशरत जो सवाल पूछ रही हैं उसका जवाब दीजिए इधर-उधर न भटकिए।

इस पर इलियास शराफुद्दीन ने कहा ‘अगर सच्चाई सुनना पसंद नहीं और दलाली करनी है तो मुझे शो में मत बुलाया करिए। इस पर एंकर ने कहा ‘आप लोग इस्लाम के नकली ठेकेदार हैं। तीन तलाक के जरिए महिलाओं को शिकार बनाया जाता है तो तब आपकी जुबान नहीं खुलती। आपकी यही जुबान तब भी नहीं खुलती जब अन्य मुद्दों पर महिलाओं का जिक्र होता है। लेकिन इस नकली ठेकेदारी में आप ये तय करेंगे की महिलाएं क्यों डर और खौफ में जीए।’

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन