Monday, May 16, 2022

ANI पत्रकार ने चलाई – चंदन गुप्ता के पिता को धमकी मिलने की फर्जी खबर

- Advertisement -

screenshot 3

उत्तर प्रदेश के कासगंज गणतंत्र दिवस (26 जनवरी) के दिन से ही सांप्रदायिक हिंसा से झूल रहा है. हालांकि अब हालत सामान्य होते दिख रहे है. इसी बीच खबर आई कि हिंसा में मारे गए चंदन गुप्ता के पिता को किसी ने जान से मारने की धमकी दी है.

ये खबर समचार एजेंसी ANI की और से चलाई गई. जिसमे दावा किया गया कि गुरुवार को मृतक चंदन के पिता सुशील गुप्ता ने कासगंज पुलिस थाने पहुंच कर जान से मारने की मिली धमकी की रिपोर्ट दर्ज कराई. ध्यान रहे  गत 26 जनवरी को तिरंगा यात्रा के दौरान चंदन गुप्ता की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी.

हालांकि इस मामले में न्यूज़ पोर्टल जनता का रिपोर्टर ने बड़ा खुलासा करते हुए  कासगंज पुलिस प्रमुख के हवाले से खबर को पूरी तरह फर्जी करार दिया. पोर्टल ने लिखा कि कासगंज के पुलिस अधीक्षक पीयूष श्रीवास्तव ने इस बात की पुष्टि करते हुए कहा कि उन्होंने इस मामले पर दिल्ली में स्थित एएनआई के वरिष्ठ अधिकारियों से बातचीत में अपनी नाराजगी व्यक्त की है.

श्रीवास्तव ने पत्रकारों से कहा कि मैं आपको यह बताना चाहता हूं कि एएनआई नामक एक मीडिया चैनल है. उस चैनल के एक व्यक्ति ने हमारे बिना आधिकारिक पुष्टि के यह खबर चलाई है. उन्होंने पत्रकारों से अपील करते हुए कहा कि मैं आपको यह अनुरोध करना चाहूंगा कि जब भी आप कोई भी समाचार (कासगंज से संबंधित) चलाते हैं, तो कृपया हमारा आधिकारिक प्रतिक्रिया भी चलाएं.

एसपी ने कहा कि मैंने दिल्ली स्थित ANI मुख्यालय में उनके वरिष्ठ अधिकारियों से इस मामले पर बात कर उस व्यक्ति के खिलाफ (ANI पर खबर चलाने वाला) कार्रवाई करने के लिए कहा है. उन्होंने कहा कि साथ ही उसके खिलाफ एक लिखित रिपोर्ट भी भेज रहा हूं, ताकि भविष्य में ऐसी घटना को दोहराया ना जाए.

कासगंज पुलिस कप्तान ने कहा कि मुझे जानकारी मिली है कि कुछ पत्रकारों द्वारा दबाव बनाकर चंदन के पिता सुशील गुप्ता से धमकी वाला बयान दिलवाया गया है. उन्होंने कहा कि इसकी जांच की जा रही है और जो भी दोषी पाया जाएगा, उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी.

हीं, एसपी पीयूष श्रीवास्तव के आरोपों पर न्यूज एजेंसी ANI की संपादक स्मिता प्रकाश ने ‘जनता का रिपोर्टर’ से बातचीत में कहा कि मुझे इस बात की जानकारी नहीं है. इतना कहने के बाद उन्होंने फोन काट दिया.

- Advertisement -

Hot Topics

Related Articles